18 साल बाद एक सीध में आए 5 ग्रह:सुबह 5.04 से 5.34 बजे तक दिखा अद्भुत नजारा, अब 2040 में होगी ऐसी खगोलीय घटना

गोरखपुर3 महीने पहले

18 साल बाद शुक्रवार की सुबह सौरमंडल में अद्भुत नजारा दिखा। बुध, शुक्र, मंगल, बृहस्पति और शनि यानी 5 ग्रह सूर्य से अपनी दूरी के क्रम में एक सीधी रेखा में आ गए। खगोलीय भाषा में इस खगोलीय घटना को ग्रेट प्लेनेटरी एलाइनमेंट या प्लेनेटरी परेड भी कहा जाता है।

इस घटना को सूर्योदय से पहले नग्न आंखों से साफ देखा गया। ग्रहों का यह अद्भुत संयोग सुबह 5.04 मिनट से 5.34 बजे तक बना रहा। टेलिस्कोप से इस नजारे को और भी बेहतर तरीके से देखा जा सकता था। लिहाजा, सुबह गोरखपुर के तारामंडल में लोगों की भीड़ जमा हो गई।

इससे पहले ऐसा नजारा पिछली बार दिसंबर 2004 में देखा गया था।
इससे पहले ऐसा नजारा पिछली बार दिसंबर 2004 में देखा गया था।

गोरखपुर के वरिष्ठ क्षेत्रीय वैज्ञानिक अधिकारी महादेव पांडेय ने बताया कि इस खगोलीय घटना को नक्षत्र शाला में विशेष दूरबीनों के जरिए दिखाया गया। विद्यार्थियों और आमजन मानस में खगोल विज्ञान के प्रति रुचि भी बढ़ी है। हालांकि, इस बीच अचानक मौसम का मिजाज बदल गया और यह अद्भुत नजारा 5.16 बजे ही खत्म हो गया।

अब 2040 में दिखेगा ऐसा नजारा
इससे पहले ऐसा पिछली बार दिसंबर 2004 में हुआ था। अब 18 साल बाद इस अद्भुत खगोलीय घटना को 24 जून शुक्रवार को देखा गया। जो लोग यह अद्भुत नजारा नहीं देख पाए हैं, उन्हें अब इसके लिए 2040 तक इंतजार करना पड़ेगा।

कुछ लोगों ने नंगी आंखों से यह नजारा देखा, लेकिन टेलिस्कोप से ग्रहों को ज्यादा अच्छे से देखा गया।
कुछ लोगों ने नंगी आंखों से यह नजारा देखा, लेकिन टेलिस्कोप से ग्रहों को ज्यादा अच्छे से देखा गया।

पूर्व से लेकर दक्षिण पूर्व के आकाश में दिखा नजारा
यह नजारा पूर्व से लेकर दक्षिण पूर्व के आकाश में दिखा। नक्षत्र शाला के खगोलविद अमर पाल सिंह ने ग्रहों की परेड के बारे में विस्तार से जानकारी दी। बताया कि जब दो या दो से अधिक ग्रह एक सीध में आ जाते हैं, तो इसे प्लेनेटरी परेड कहा जाता है। कुछ सालों के अंतराल पर दो या तीन ग्रह एक सीध में आते हैं। इस बार 24 जून शुक्रवार को 5 ग्रहों का एक सीधी रेखा में आना दुर्लभ खगोलीय घटनाओं में से एक है।

चंद्रमा के मंगल और बृहस्पति के बीच में आने से यह नजारा और भी ज्यादा खूबसूरत दिखने लगा।
चंद्रमा के मंगल और बृहस्पति के बीच में आने से यह नजारा और भी ज्यादा खूबसूरत दिखने लगा।

चंद्रमा ने बढ़ाई खूबसूरती
सूर्य का चक्कर लगाने के क्रम में बुध, शुक्र, मंगल, बृहस्पति एवं शनि ग्रह एक सीध में आ गए। मंगल और बृहस्पति के बीच में चंद्रमा के आ जाने से इसकी खूबसूरती और भी बढ़ गई। इसी प्रकार हमारे सौर मंडल के सभी 8 ग्रहों का एक सीधी रेखा में आना बहुत ही दुर्लभतम खगोलीय घटना होती है। यह सैकड़ों साल में एक बार ही घटित होती है। अब यह घटना 470 साल बाद सन 2492 में घटित होगी।