गोरखपुर...हाईटेंशन तार की चपेट में आकर दो मजदूरों की मौत:एक अन्य बुरी तरह झुलसा, लोहे की सीढ़ी ले जा रहे थे तीन मजदूर; हाईटेंशन तार में टच हो गई सीढ़ी

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
11 हजार बोल्ट की विद्युत लाइन की चपेट में आकर दो मजदूरों की मौत हो गई। जबकि तीसरा गंभीर रूप से घायल हो गया है। - Dainik Bhaskar
11 हजार बोल्ट की विद्युत लाइन की चपेट में आकर दो मजदूरों की मौत हो गई। जबकि तीसरा गंभीर रूप से घायल हो गया है।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में मंगलवार को एक दर्दनाक हादसा हो गया। यहां कैंपियरगंज में नेशनल हाइवे पर मौजूद एक रेस्टोरेंट के समीप निर्माणाधीन मकान के बगल से गुजर रहे 11 हजार बोल्ट की विद्युत लाइन की चपेट में आकर दो मजदूरों की मौत हो गई। जबकि तीसरा गंभीर रूप से घायल हो गया है।

घायल मजदूरों को तत्काल सीएचसी लाया गया। जहां दो की मौत हो गई। जबकि तीसरे की हालत नाजुक बनी हुई है। उसे डॉक्टरों ने मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों का शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और मामले की पड़ताल में जुट गई।

हाईटेंशन तार में टच हो गई लोहे की सीढ़ी
सोनौली हाइवे पर मौजूद रेस्टोरेंट के बगल में राजस्व विभाग के रिटायर कर्मी के मकान के दूसरे मंजिल के निर्माण में मजदूर लगे थे। मंगलवार की दोपहर मजबूर बगल से एक ट्राली युक्त सीढ़ी निर्माण स्थल पर धकेल कर ले रहे थे। सीढ़ी काफी ऊंचा होने के कारण निर्माणाधीन मकान से पहले ऊपर से गुजर रहे हाइटेंशन विद्युत लाइन की जद में आ गया। जिससे कि करंट की चपेट में आते ही मजदूर बुरी तरह झुलस गए। दो मजदूरों की मौके पर दर्दनाक मौत हो गई। जबकि तीसरा बुरी तरह झुलस गया।

इन मजदूरों की हुई मौत
पुलिस के मुताबिक मृतक मजदूरों की पहचान कमलेश चौरसिया(28) पुत्र मोलहू निवासी लोहरपुरवा और पंकज पासवान(22) पुत्र उमेश पासवान निवासी थाना शाहपुर गायत्रीनगर के रुप में हुई। जबकि जोखन(50) पुत्र झकरी, निवासी ढाढ़ी टोला लोहरपुरवा गंभीर रुप से झुलस गया। घायल का बीआरडी मेडिकल कॉलेज में इलाज चल रहा है।