पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गोरखपुर की बाढ़ में डूबे दो बच्चों की मौत:दोस्तों संग नहाने गए गए थे दोनों; ग्रामीणों ने मशक्कत कर बाहर निकाला, तब तक निकल चुका था दम

गोरखपुर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
डूबता देख साथ के अन्य लड़कों ने शोर मचाया लेकिन जब तक शोर सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंचे तब तक दोनों पानी में डूब गए थे। - Dainik Bhaskar
डूबता देख साथ के अन्य लड़कों ने शोर मचाया लेकिन जब तक शोर सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंचे तब तक दोनों पानी में डूब गए थे।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में बाढ़ त्रासदी के बीच सोमवार को एक दर्दनाक हादसा हो गया। यहां चिलुआताल इलाके के उष्का टोला पोखरहवा के दो किशोरों की बाढ़ के पानी में नहाते समय डूबकर मौत हो गई। साथ नहाने गए बच्चों के शोर मचाने पर जुटे ग्रामीणों ने किसी तरह से उनका शव ढूढ़ निकाला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया।

बाढ़ के पानी में नहा रहे थे बच्चे
सोमवार को ग्राम सभा उष्का के टोला पोखरहवा निवासी विश्वनाथ का 12 साल का बेटा साहिल व सत्यप्रकाश का लगभग 16 साल का बेटा आलोक गांव के अन्य साथियों के साथ राप्ती नदी में बाढ़ के पानी में नहाने गया था। दोनों किशोर नहाते वक्त गहरे पानी में चले गए और डूबने लगे। उनको डूबता देख साथ के अन्य लड़कों ने शोर मचाया लेकिन जब तक शोर सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंचे तब तक दोनों पानी में डूब गए थे। ग्रामीणों ने काफी मसक्कत के बाद दोनों का शव बाहर निकाला।

गांव में मच गया कोहराम
उधर, घटना की सूचना गांव में पहुंचते ही कोहराम मच गया। ग्रामीणों ने घटना की सूचना पुलिस, राजस्व अधिकारियों एवं एनडीआरएम टीम को दी गई है। एनडीआरएफ टीम पहुंचने के पहले ही ग्रामीण पानी में डूबे बच्चों का शव ढूढ़ने में सफल हो गए। साहिल पूर्व माध्यमिक विद्यालय मीरपुर में कक्षा 6 का छात्र था एवं आलोक प्रभावती देवी हायर सेकेन्ड्री स्कूल डोहरिया में कक्षा 9 का छात्र था।

खबरें और भी हैं...