मनीष गुप्ता हत्याकांड:24 नवंबर को मनीष के दोस्त हरबीर और प्रदीप से पूछताछ करेगी CBI, दोनों को लखनऊ किया तलब

गोरखपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
CBI ने मनीष के गुड़गांव के दोनों दोस्तों हरबीर सिंह और प्रदीप सिंह को लखनऊ तलब किया है। - Dainik Bhaskar
CBI ने मनीष के गुड़गांव के दोनों दोस्तों हरबीर सिंह और प्रदीप सिंह को लखनऊ तलब किया है।

कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता हत्याकांड की जांच कर रही CBI गोरखपुर से लौट चुकी है। अब वह बुधवार 24 नवंबर को लखनऊ में मनीष के गुड़गांव के दोनों दोस्त हरबीर सिंह और प्रदीप सिंह से पूछताछ कर सकती है। इसके लिए CBI ने दोनों दोस्तों को लखनऊ तलब किया है। उम्मीद है कि दोनों गुड़गांव से लखनऊ पहुंच जाएंगे।

इतना ही नहीं, उनके साथ गोरखपुर से मनीष के दोस्त चंदन सैनी और अन्य भी लखनऊ जा सकते हैं। हालांकि गोरखपुर के दोस्तों से CBI पहले ही यहां पूछताछ कर चुकी है। इसके बावजूद उम्मीद है कि इन्हें भी लखनऊ बुलाया जाएगा।

2 नवंबर को इस मामले में CBI ने केस दर्ज कर लिया और कानपुर में मृतक की पत्नी से केस की जानकारी लेकर CBI टीम 11 नंबवर को गोरखपुर पहुंची।
2 नवंबर को इस मामले में CBI ने केस दर्ज कर लिया और कानपुर में मृतक की पत्नी से केस की जानकारी लेकर CBI टीम 11 नंबवर को गोरखपुर पहुंची।

2 नवंबर से CBI कर रही है वारदात की जांच
27 सितंबर को हुई इस घटना की 2 अक्टूबर से जांच पहले SIT कानपुर ने की। लेकिन परिवार को इस पर भरोसा नहीं था। मृतक की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता ने सुप्रीम कोर्ट में अपील कर CBI जांच की मांग की थी। कोर्ट के फैसले से पहले ही 2 नवंबर को इस मामले में CBI ने केस दर्ज कर लिया। कानपुर में मीनाक्षी से केस की जानकारी लेकर CBI टीम 11 नवंबर को गोरखपुर पहुंची। 18 नवंबर तक CBI ने इस केस से जुड़े तमाम लोगों से गोरखपुर में पूछताछ की। इनमें होटल मालिक, कर्मचारी, रामगढ़ताल थाने की पुलिस के अलावा मनीष के गोरखपुर में मौजूद दोस्तों से CBI ने कई राउंड पूछताछ की।

मनीष के साथ घटना के वक्त मौजूद गुड़गांव के दोस्त हरबीर सिंह और प्रदीप सिंह लगातार SIT जांच से भाग रहे थे।
मनीष के साथ घटना के वक्त मौजूद गुड़गांव के दोस्त हरबीर सिंह और प्रदीप सिंह लगातार SIT जांच से भाग रहे थे।

SIT जांच से भाग रहे थे हरबीर और प्रदीप
हालांकि घटना के बाद से ही मनीष के साथ घटना के वक्त मौजूद गुड़गांव के दोस्त हरबीर सिंह और प्रदीप सिंह लगातार SIT जांच से भाग रहे थे। कई बार बुलाने पर भी दोनों किसी भी हाल में गोरखपुर आने को तैयार नहीं थे। लेकिन अब CBI के बुलावे के बाद दोनों यहां आने को मजबूर हो गए हैं। सूत्रों के मुताबिक दोनों को सोमवार की सुबह CBI ने लखनऊ बुलाया गया था। लेकिन अब दोनों बुधवार 24 नवंबर को आएंगे। ​​​​​​​हरबीर और प्रदीप को लखनऊ बुलाने की जिम्मेदारी भी CBI ने मनीष के गोरखपुर वाले दोस्तों को सौंपी हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि दोनों से बुधवार को CBI पहले लखनऊ में पूछताछ करेगी और फिर उन्हें लेकर 28 नवंबर के बाद टीम गोरखपुर आएगी।

CBI भी एक बार होटल कृष्णा पैलेस के रूम नंबर 512 में घटना का सीन रिक्रीएट कर सकती है।
CBI भी एक बार होटल कृष्णा पैलेस के रूम नंबर 512 में घटना का सीन रिक्रीएट कर सकती है।

512 नंबर कमरे में सीन​ रिक्रीएट कर सकती है CBI
यहां आने के बाद CBI भी एक बार होटल कृष्णा पैलेस के रूम नंबर 512 में घटना का सीन रिक्रीएट कर सकती है। इसके साथ ही अब तक SIT से मिले साक्ष्यों के आधार पर CBI कुछ अन्य फॉरेंसिक जांच कर साक्ष्य संकलन भी कर सकती है। ताकि घटना के चश्मदीत को सामने लाते हुए CBI किसी ठोस नतीजे पर पहुंच सके। उम्मीद है कि 28 नवंबर के बाद एक बार फिर CBI टीम गोरखपुर में दस्तक देगी।

खबरें और भी हैं...