पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Gorakhpur
  • Father Had Bought Mobile For Online Studies, Got Addicted To Online Games While Studying; Ran Away From Home With The Comrades Of The Ban,Gorakhpur, Gorakhpur News, Gorakhpur Crime News, Misiing Three Child In Gorakhpur, Breking News Gorakhpur, Gorakhpur Police

गोरखपुर में फिर लापता हुए तीन बच्चे:ऑन लाइन पढ़ाई के लिए पिता ने खरीदा था मोबाइल, पढ़ाई के दौरान लग गई थी ऑनलाइन गेम की लत; पाबंदी की साथियों संग घर से भागा

गोरखपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसएसपी दिनेश कुमार प्रभु ने बताया कि बच्चों की तलाश के लिए 25 हजार रुपए का इनाम घोषित कर दिया। - Dainik Bhaskar
एसएसपी दिनेश कुमार प्रभु ने बताया कि बच्चों की तलाश के लिए 25 हजार रुपए का इनाम घोषित कर दिया।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के तीन नाबालिग बच्चे मां-बाप द्वारा ऑनलाइन गेम खेलने से पाबंदी लगाने पर मंगलवार की रात करीब 9 बजे बैग व साइकिल लेकर घर छोड़कर भाग गए। बुधवार को पूरे दिन इधर-उधर तलाश करने के बाद जब उनका कहीं पता नहीं चला तो परिवारीजनों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने उनकी तलाश शुरू कर दी है।

तीनों बच्चे गुलरिहा इलाके में जंगल डुमरी नंबर दो के हेलानी टोला के रहने वाले हैं। उधर, एसएसपी दिनेश कुमार प्रभु ने बताया कि बच्चों की तलाश के लिए 25 हजार रुपए का इनाम घोषित कर दिया। जल्द ही तीनों को बरामद कर लिया जाएगा।

मोबाइल पर लगी पाबंदी तो गुमसुम रहने रहा रोहन
दरअसल, घर छोड़कर भागे रोहन चौहान 14 वर्ष के पिता रामसिंह चौहान ने बताया कि कोरोना महामारी में बच्चों की पढ़ाई बंद हो गई थी। स्कूलों द्वारा ऑनलाइन पढ़ाई के लिए मोबाइल खरीदने का निर्देश मिला तो उन्होंने बच्चे को एंड्राइड मोबाइल खरीद कर दिया था।

बच्चा ऑनलाइन पढ़ाई करते-करते ऑनलाइन गेम खेलने का आदी हो गया। दो माह पहले वे दुबई से घर आए तो बच्चे की हरकत के बारे में जानकारी हुई। उन्होंने मोबाइल पर प्रतिबंध लगाते हुए ऑनलाइन क्लासेज बंद करा दिया। उसके बाद उनका बच्चा गुमसुम रहने लगा।

डांट लगाई तो साथियों संग घर से निकल गया
बताया जा रहा है कि इसी दौरान मौका देखकर रोहन अपने साथियों के साथ मोबाइल में गेम डाउनलोड कर खेलने लगा। मंगलवार की सुबह रोहन घर से निकला और शाम को पहुंचा तो रामसिंह चौहान ने बेटे से दिन भर गायब रहने का कारण पूछते हुए डांट लगाई।

उसके बाद ही गांव के दो अन्य लड़के रवि पुत्र मुंशी चौहान (12) और पुतुल गौड़ पुत्र पिंटू गौड़ (13) एक साथ तीनों घर निकले गए। सुबह इसकी जानकारी होने पर रिश्तेदारों में खोजबीन शुरू की गई। शाम तक पता नहीं चलने पर गुलरिहा थाने में लिखित तहरीर दी गई है। इंस्पेक्टर गुलरिहा विनोद अग्निहोत्री ने बताया कि मामले में तहरीर के आधार पर केस दर्ज कर बच्चों की तलाश कराई जाएगी।

खबरें और भी हैं...