पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हाई अलर्ट में चल रहा तस्करी का खेल:आतंकियों की तलाश में नेपाल सीमा पर हाई अलर्ट होने के बावजूद तस्करी जारी, तस्करों से उलझने पर गांव वालों की SSB जवान से नोकझोंक

महराजगंज10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भारत-नेपाल की खुली सीमा में धड़ल्ले से तस्करी चल रही है। - Dainik Bhaskar
भारत-नेपाल की खुली सीमा में धड़ल्ले से तस्करी चल रही है।

लखनऊ में अलकायदा के दो आतंकियों को पकड़ने के बाद उनके साथियों की तलाश हो रही है। एक ओर आतंकियों की तलाश में भारत-नेपाल सीमा पर हाई अलर्ट कर दिया गया है। वहीं, दूसरी ओर हाई अलर्ट होने के बाद भी महराजगंज सीमा पर तस्करी का खेल जारी है। दरअसल, भारत-नेपाल की खुली सीमा में धड़ल्ले से तस्करी चल रही है।

ताजा मामला सोनौली कोतवाली क्षेत्र के श्यामकाट बगीचे का है। जहां खाद (उर्वरक) की तस्करी हो रही है। खाद तस्करी को लेकर तस्कर और सीमा सुरक्षा बल (एसएसबी) के जवाब एक दूसरे के आमने सामने आ गए। सीमा की सुरक्षा में लगे जवान ने तस्कर को पीट दिया। इसकी खबर जैसे ही इलाके में फैली तो गांव के लोग दौड़ पड़े। गांव वालों की जवान से नोकझोंक हो गई।

गांव वालों ने घेरा, तो जवान ने तान दी बंदूक
इलाके में खाद की तस्करी जारी है। मंगलवार को ही तस्करी हो रही थी। इस बीच एसएसबी को खबर मिली। जवान मौके पर पहुंच गया और तस्करों को रोकने लगा। इसपर तस्करों ने बवाल शुरू कर दिया। बवाल कर रहे तस्करों को जवान ने पीट दिया। मार खाने के बाद तस्कर गांव की ओर शोर मचाते दौड़े। गांव वालों को जैसे ही सूचना मिली वो बगीचे में पहुंच गए। इसके बाद जवान को ही घेर लिया। खुद को घिरता देख जवान ने गांव वालों पर बंदूक तान दी। घटना की सूचना जैसे ही एसएसबी के सहायक कमांडेंट को हुई वो तुरंत मौके पर पहुंच गए और जवान को गांव वालों चंगुल से निकाल लिया।

सीमा पर हर सामान की चेकिंग हो रही है। बकायदा डॉग स्क्वॉयड के साथ जवान सीमा पर मुस्तैद हैं।
सीमा पर हर सामान की चेकिंग हो रही है। बकायदा डॉग स्क्वॉयड के साथ जवान सीमा पर मुस्तैद हैं।

खेती के लिए खाद की कमी

सीमा के सटे इलाकों के किसान खेती के लिए परेशान हैं। खाद की किल्लत से मारा मारी मची है। रोजाना दो से तीन ट्रक खाद को सबसे सामने पिकअप पर लादकर बार्डर से सटे रेहरा सहित अन्य गांव के अवैध गोदामों में जमा किया जाता है। फिर वहां से साइकिल पर लादकर खाद को अलग-अलग रास्तों से नेपाली सीमा में पहुंचाया जाता है।

बिना रोकटोक खाद को नेपाल पहुंचा रहे

परसामलिक थाना क्षेत्र के जिगिना और जमुहानी सहित कई ग्राम सभा में खाद की लाइसेंसी दुकानें हैं। लेकिन, किसान दुकानदारों से परेशान है। कुछ दुकानदार खुलेआम किसानों के सामने ही यूरिया डीएपी और जैविक खाद को पीकप में लदवाकर अवैध गोदामों तक पहुंचाते हैं। फिर यहां से खाद को अवैध तरीके से नेपाल सीमा में भिजवाया जाता है।

खबरें और भी हैं...