उप्र में पहली मौत / गोरखपुर में कोरोना से संक्रमित 25 साल के युवक की मौत, मुंबई से लौटा था; डॉक्टर समेत 17 लोग क्वारैंटाइन

गोरखपुर मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने इमरजेंसी व आईसीयू को सैनिटाइज कराना शुरू किया। गोरखपुर मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने इमरजेंसी व आईसीयू को सैनिटाइज कराना शुरू किया।
X
गोरखपुर मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने इमरजेंसी व आईसीयू को सैनिटाइज कराना शुरू किया।गोरखपुर मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने इमरजेंसी व आईसीयू को सैनिटाइज कराना शुरू किया।

  • युवक के लीवर और किडनी में समस्या थी, इसके चलते तीन महीने पहले भी बस्ती के हॉस्पिटल में एडमिट हुआ था। 
  • सोमवार को बीआरीडी मेडिकल कॉलेज में हुई थी मौत, लखनऊ से गई जांच रिपोर्ट में उसे कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई

दैनिक भास्कर

Apr 01, 2020, 01:46 PM IST

गोरखपुर. उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में बीआरडी मेडिकल कॉलेज में कोरोना से संक्रमित 25 वर्षीय युवक की मौत हो गई। वह बस्ती जिले का रहने वाला था। बीते रविवार को सांस लेने में तकलीफ होने पर उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। सोमवार सुबह उसकी मौत हो गई थी। बुधवार को लखनऊ के केजीएमयू से आई रिपोर्ट में उसे संक्रमण होने की पुष्टि हुई है। युवक हाल ही में मुंबई से लौटा था। बस्ती प्रशासन ने जिस गांधीनगर इलाके में युवक रहता था उस इलाके को सील कर दिया है। साथ ही युवक का इलाज करने वाले मेडिकल व पैरामेडिकल स्टाफ समेत 17 सदस्यों को आइसोलेट या क्वारैंटाइन किया गया। युवक को किडनी और लीवर से जुड़ी हुई कुछ समस्या बताई जा रही है।

बस्ती का रहने वाला था युवक

बस्ती जिले के तुरकहिया निवासी युवक को सांस लेने में तकलीफ होने पर परिवार वालों ने रविवार की रात गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज के मेडिसिन इमरजेंसी वार्ड में भर्ती करवाया था। तबियत बिगड़ने पर उसे ट्रामा सेंटर के आईसीयू ले जाया गया, जहां सोमवार सुबह उसकी मौत हो गई। कोरोना संक्रमण की जांच के लिए लार का नमूना क्षेत्रीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान केंद्र गोरखपुर भेजा गया था। लेकिन रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं आई। मामला संदिग्ध होने के चलते नमूना केजीएमयू लखनऊ भेजा गया।

 

प्रशासन ने युवक के आसपास इलाके को किया सील
युवक के संक्रमित होने का पता चलने के बाद नमूना लेने वालों में शामिल दो लैब टेक्नीशियन, एक डॉक्टर को हॉस्टल में आइसोलेट कर दिया गया है। एक अन्य डॉक्टर, दो नर्स व दो वार्ड बॉय भी मेडिकल कॉलेज नहीं आए। उन लोगों ने खुद को घर में ही आइसोलेट कर लिया है। मेडिकल कॉलेज व ट्रामा सेंटर के आईसीयू को सैनिटाइज किया जा रहा है। बस्ती प्रशासन ने परिवार के छह सदस्यों समेत आठ लोगों को आइसोलेट कराते हुए पूरे इलाके को सील कर दिया है। जिस एंबुलेंस से हसनैन को गोरखपुर ले जाया गया था, उसके ड्राइवर समेत तीन को क्वारैंटाइन किया गया है। 

डॉक्टरों से लक्षण पहचानने में हुई चूक
मेडिकल कालेज के प्राचार्य डा. गणेश कुमार ने कहा- मेडिकल कालेज व मृतक के परिवार समेत 16 लोग आइसोलेट हुए हैं। मरीज में कोरोना के लक्षण थे, लेकिन डॉक्टर उसकी पहचान करने में चूके हैं। 

यूपी में अब तक 106 केस
यूपी में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 106 तक पहुंच गई है। तीन नए मामले सामने आने के बाद उत्तर प्रदेश में सर्वाधिक 41 संक्रमित नोएडा में मिले हैं। इसके अलावा मेरठ में 19, आगरा में 12, लखनऊ में 9, गाजियाबाद में 8, में पीलीभीत व वाराणसी में 2-2, लखीमपुर खीरी, कानपुर नगर, मुरादाबाद, शामली, जौनपुर, बागपत, बुलंदशहर में 1-1 मामला सामने आ चुका है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना