पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बारिश में आग का तांडव:गोरखपुर के मकान में दीए से लगी भीषण आग, लाखों का सामान राख; पिता को बचाने में बेटा झुलसा

गोरखपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
4 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। - Dainik Bhaskar
4 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका।

यास चक्रवाती तूफान के बीच उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में झमाझम पानी के दौरान एक मकान में आग लग गई। शुक्रवार की सुबह लगी इस आग में घर का लाखों का सामान जलकर खाक हो गया। घटना में एक युवक झुलस गया। उधर, सूचना मिलते ही पुलिस व फायर बिग्रेड की गाड़ियां भी मौके पर पहुंची। 4 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। घायल को उपचार के लिए भर्ती कराया गया है।

दीए से गमछे में लगी आग ने घर किया राख
घटना खोबाबार के प्यासी गांव की है। बताया जा रहा है कि प्यासी गांव के रहने वाले संतोष जायसवाल के घर सुबह लाइट नहीं थी। इस दौरान घर का इनवर्टर भी डिस्चार्ज हो गया। अंधेरा होने की वजह से उसने दीप जला लिया। इस दौरान उन्होंने अपने कंधे पर गमछा डाल रखा था। तभी दीए से गमछे में आग पकड़ ली। यह देख परिवार में अफरा-तफरी मच गई। उन्हें बचाने के लिए उनका बेटा अभिषेक (23) भी दौड़ा। पिता को बचाने में बेटा बुरी तरह झुलस गया। उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

परिवार के सभी लोग सो रहे थे
वहीं, बताया जा रहा है कि पिता को बचाने के लिए अभिषेक ने जलते गमछे को उठा कर फेंका, जो घर में रखे कपड़ों के ढेर पर जाकर गिरा। जिससे कपड़ों ने आग पकड़ ली। देखते ही देखते पूरे आग की लपटों ने पूरे घर को अपनी चपेट में ले लिया। सुबह का समय होने के कारण परिवार के सभी लोग सो रहे थे। जब तक कोई कुछ समझ पाता आग पूरे घर में फैल चुकी थी। बाद में घरवालों के शोर मचाने पर ग्रामीणों ने आग बुझाने के लिए प्रयास शुरू किया। इस दौरान सूचना पाकर फायर ब्रिगेड की गाड़ी भी पहुंच गई। ग्रामीणों व फायर ब्रिगेड के संयुक्त प्रयास के बाद किसी तरह से 4 घंटे में आग पर काबू पाया जा सका।