गोरखपुर...प्रेम जाल में फंसाकर रेप के बाद हत्या:प्रेमी ने पहले किया दुष्कर्म फिर जहर देकर मार डाला, मौत के बाद जागी पुलिस, घटना के बाद बोली पुलिस- पहले इलाज कराओ

गोरखपुर6 महीने पहले
विवाहिता के परिजन उसे लेकर पीपीगंज थाने पहुंचे लेकिन लापरवाह पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की और उसे पहले इलाज कराने की बात कह कर वापस भेज दिया।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में हैरान कर देने वाली घटना मंगलवार को सामने आई है। यहां पीपीगंज इलाके में प्रेम जाल में फंसाकर एक युवक ने पहले विवाहिता के साथ दुष्कर्म किया और फिर उसे जहर ​पिलाकर फरार हो गया। विवाहिता के परिजन उसे लेकर पीपीगंज थाने पहुंचे लेकिन लापरवाह पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की और उसे पहले इलाज कराने की बात कह कर वापस भेज दिया। परिजन गंभीर हालत में विवाहिता को लेकर मेडिकल कॉलेज पहुंचे, जहां इलाज के दौरान सोमवार की देर रात उसकी मौत हो गई।

लापरवाह पुलिस विवाहिता के मौत के बाद अब मंगलवार को जागी है। मौत की सूचना पर सीओ कैंपियरगंज पहुंचे जांच पड़ताल की। उनका कहना है कि मामले में कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उधर विवाहिता के पिता ने प्रेमी व उसके परिजनों के खिलाफ दुष्कर्म करने, मारने- पीटने और जहर देकर मार डालने का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी है।

खेत में पूरी रात तड़पती रही विवाहिता
पीपीगंज इलाके की रहने वाली युवती की शादी खजनी इलाके में हुई थी। लेकिन वह शादी के बाद से ही अपने पीपगंज स्थित मायके में ही रह रही थी। इस दौरान उसका प्रेम संबंध पड़ोस के ही एक युवक से था। आरोप है कि बीते 7 दिसंबर की शाम युवक ने विवाहिता को मिलने बुलाया। खेत के मचान पर ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया और फिर जहर पिलाकर फरार हो गया।

उधर पूरी रात विवाहिता तड़पती रही। 8 दिसंबर की सुबह जब उसके पिता को जानकारी हुई तो वह तड़पती हुई बेटी को लेकर पहले थाने पहुंचे वहां पुलिस ने कहा कि पहले इलाज कराओ। जिसके बाद पिता ने उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया। जहां सोमवार की रात उसकी मौत हो गई।

पहले भी प्रेमी ने किया था रेप
पीपीगंज इलाके की उक्त युवती से शादी से पहले इसी युवक ने दुष्कर्म किया था। तहरीर के आधार पर केस दर्ज हुआ था और आरोपित गिरफ्तार हुआ। बाद में युवती की शादी वर्ष 2016 में खजनी इलाके में हो गई। शादी के बाद युवती अपने मायके चली आई। इस दौरान जेल से छूटे आरोपित युवक ने 40 हजार रूपये देकर मुकदमें में सुलह कर लिया लेकिन गवाहों का सुलहनामा बाकी है।

इस दौरान विवाहिता का प्रेम संबंध आरोपित युवक से हो गया। इस दौरान विवाहिता उक्त युवक से शादी का दबाव बनाने लगी। इसके बाद बीते 7 दिसंबर को आरोपित युवक ने उसे मिलने के लिए बुलाया और दुष्कर्म करने के बाद जहर पिलाकर भाग गया। जिसके बाद मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान सोमवार की रात विवाहिता की मौत हो गई।

पिता ने दी है तहरीर
विवाहिता के पिता ने मुख्य आरोपित सुरेश यादव पर आरोप लगाया है कि उसने बुलाकर दुष्कर्म किया और राजेश यादव, सीमा, गुड्डी और अमरावती के साथ मिलकर मारा- पीटा और जहर पिलाकर फरार हो गया। पिता का आरोप है कि पीपीगंज के पूर्व थानेदार ने उनकी तहरीर बदलवा ​दी थी और इलाज कराने भेज दिया था।

सोमवार की रात विवाहिता की मौत होने के बाद मंगलवार को सीओ व स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। सीओ कैंपियरगंज अजय कुमार सिंह ने बताया कि मौके पर पुलिस गई थी। ​विवाहिता के परिजनों ने तहरीर दी है। पूरे मामले की जांच नए थानेदार कर रहे हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...