पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

UP में माफियाओं पर शिकंजा:गोरखपुर में माफिया प्रदीप सिंह की करोड़ों की संपत्ति जब्त, पत्नी-मां के वाहन पर भी होगी कार्रवाई

गोरखपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
माफिया प्रदीप सिंह की करीब छह करोड़ की खेती योग्य जमीन जब्त। - Dainik Bhaskar
माफिया प्रदीप सिंह की करीब छह करोड़ की खेती योग्य जमीन जब्त।

उत्तर प्रदेश सरकार लगातार माफियाओं पर शिकंजा कस रही है। इसी कड़ी में गोरखपुर जिले में पुलिस ने पूरी तरह कमर कस ली है। माफिया सुधीर सिंह की गाड़ी जब्त करने के बाद गोरखपुर के गैंगवार में एक समय बड़ा नाम बन चुके माफिया प्रदीप सिंह पर भी प्रशासन ने सख्ती दिखाई है। प्रदीप सिंह की संपत्ति को जब्त करने की कार्रवाई गुरुवार को पुलिस और प्रशासन की टीम ने शुरू कर दी। बताया जा रहा है कि उनकी करीब छह करोड़ की खेती योग्य जमीन को जब्त कर लिया गया है।

बारिश की वजह से रूकी कार्रवाई
हालांकि, गुरुवार को मौसम खराब होने की वजह से उनकी पैतृक गांव मल्हीपुर में स्थित चिन्हित तीन मकान और उसकी पत्नी और माता के नाम से एक-एक लग्जरी वाहन पर जल्द ही जब्तीकरण की कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए जिला प्रशासन की ओर से तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

माफिया सुधीर से चलती थी प्रदीप की दुश्मनी
बता दें, कचहरी परिसर में हत्या करने के बाद प्रदीप सिंह का नाम सुर्खियों में आया था। वहीं, ब्लाक प्रमुख रहे माफिया सुधीर सिंह से उनकी सीधी दुश्मनी चलती थी। दोनों गैंगों के गैंगवार में कई लोगों की हत्या भी की जा चुकी है। हालांकि, बाद में दोनों पक्ष ने अपनी समझौता कर मामले को मैनेज कर जमानत पर बाहर आ गए थे। लेकिन, पुलिस ने जिले के टॉप टेन बदमाशों की सूची में उनका नाम शामिल किया था और कुछ दिन पहले ही गैंगस्टर के एक मामले में उनकी गिरफ्तारी कर जेल भेजा गया था। इसके बाद से प्रशासन ने प्रदीप सिंह की संपत्ति को जब्त करने का फैसला किया। गुरुवार को इस पर कार्रवाई की गई है।

अपराधियों पर कस रहा पुलिस का शिकंजा
गौरतलब है कि शासन के आदेश पर माफियाओं के खिलाफ प्रशासन ने सख्त कार्रवाई बहुत पहले से ही शुरू कर दी थी। जिसके तहत जगह-जगह पर ऐसे अपराधियों को चिन्हित किया जा रहा है, जिनके पास अपराध से काफी धन व संपत्ति एकत्रित है। जिला स्तर पर ऐसे अपराधियों को चिन्हित कर उनकी नामी-बेनामी संपत्ति व मकान, वाहन को या तो प्रशासन जब्त कर रहा है या फिर बुलडोजर चला रहा है।

सरकारी संपत्ति में ट्रांसफर हुई प्रदीप की संपत्ति
तहसीलदार सहजनवां शशि भूषण पाठक ने बताया कि जो संपत्ति माफिया प्रदीप सिंह द्वारा अर्जित की गई थी, उसे चिन्हित कर जिला अधिकारी के आदेशानुसार सरकारी संपत्ति में स्थानांतरित कर दिया गया। वहीं, मल्हीपुर स्थित आवास व वाहनों पर भी गुरुवार को तहसील प्रशासन द्वारा कार्रवाई की जानी थी, लेकिन मौसम खराब होने की वजह से तथा कुछ अन्य कारणों की वजह से उसे स्थगित कर दिया गया है। शीघ्र ही यह कार्रवाई फिर दोबारा शुरू की जाएगी।

खबरें और भी हैं...