गोरखपुर DM-SSP बोले- बर्बाद हो जाएंगे 6 परिवार:मीनाक्षी को केस न दर्ज करने की सलाह देते अफसरों का वीडियो आया सामने, कहा- मुकदमे से कुछ हासिल नहीं होगा

गोरखपुर4 महीने पहले
मृतक मनीष की पत्नी मीनाक्षी और बेटा। मीनाक्षी ने बताया कि गोरखपुर डीएम व एसएसपी केस न दर्ज कराने की सलाह बार-बार दे रहे थे।

मनीष गुप्ता की मौत के मामले में गोरखपुर पुलिस का एक ऐसा वीडियो सामने आया है, जिसने सिस्टम पर सवाल उठा दिए हैं। मंगलवार रात के इस वीडियो में डीएम व एसएसपी मीनाक्षी और उसके परिवार को किसी भी हाल में केस न दर्ज कराने की सलाह दे रहे हैं।

बीआरडी मेडिकल कॉलेज पुलिस चौकी में यह वीडियो बना है। इसमें मीनाक्षी 4 साल के मासूम बेटे को गोद में लेकर डीएम विजय किरन आनंद और एसएसपी डॉ. विपिन ताडा से पति की मौत का इंसाफ मांग रही हैं।

मीनाक्षी बोलीं- 2 राउंड चली बैठक
वीडियो की पुष्टि करते हुए मनीष की पत्नी मीनाक्षी ने कहा ​कि रात 8 से रात 12 बजे तक अधिकारियों और परिवार की बैठक दो राउंड चली। इसमें डीएम विजय किरन आनंद और एसएसपी डॉ. विपिन ताडा ने किसी भी हाल में केस न दर्ज कराने की सलाह दी।

मृतक मनीष के बहनोई आशीष गुप्ता ने बताया कि मीनाक्षी के साथ वह भी मौजूद थे। मीनाक्षी भाभी ने सरकारी नौकरी की मांग करते हुए कहा था कि अब उनकी और बेटे की परवरिश कौन करेगा? इस पर अधिकारी समझाते रहे कि मनीष कोई सरकारी नौकरी तो करते नहीं थे, जो आपको मिलेगी?

बर्बाद हो जाएगा 6 पुलिसकर्मियों का परिवार

आशीष ने बताया कि अधिकारियों ने यह स्वीकार किया कि उन्हें पता है कि गलती पुलिस की ही है। लेकिन आपके एक केस से 6 पुलिसकर्मियों का परिवार बर्बाद हो जाएगा। इससे हासिल कुछ भी नहीं होगा। इस पर मीनाक्षी ने अधिकारियों से पूछा कि जो मेरी जिंदगी बर्बाद हुई है, उसका क्या होगा? तो अधिकारी बात को घुमाने लगे।

सालों लगाने पड़ेंगे कोर्ट के चक्कर वहीं, वीडियो में डीएम कहते नजर आ रहे हैं कि मैं आपके भाई की तरह हूं। एक बार मुकदमा दर्ज हो जाने से आपको अंदाजा नहीं है कि सालों कोर्ट में चक्कर काटना पड़ेगा। इससे किसी को कुछ हासिल नहीं होता। सालों बीत जाएंगे चक्कर लगाते। जबकि एसएसपी कहते नजर आ रहे हैं कि पुलिस वालों की मनीष से कोई दुश्मनी तो थी नहीं, जो वो ऐसा करेंगे। आपके कहने पर मैंने उन्हें सस्पेंड कर दिया। वे तब तक बहाल नहीं होंगे, जब तक उन्हें क्लिन चीट नहीं मिलेगी। इसके बाद सीएम योगी आदित्यनाथ का फोन आने के बाद केस दर्ज किया गया।

विपक्ष ने बोला हमला
इस मामले में विपक्ष ने भी सरकार पर हमला बोलना शुरू कर दिया है। समाजवादी पार्टी ने अपने ट्विटर हैंडल से वीडियो ट्वीट कर सरकार पर निशाना साधा है। जबकि करीब डेढ़ मिनट के इस वीडियो को अंत में एसएसपी ने बनाने से रोक दिया।

खबरें और भी हैं...