• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Gorakhpur
  • Manish's Friends Will Not Go To Kanpur, Harbir And Pradeep Will Come To Gorakhpur; SIT Will Report After Recording Last Statement, Accused Can Surrender In Court Before Arrest!

मनीष गुप्ता हत्याकांड...सरेंडर कर सकते हैं आरोपी पुलिस वाले:अब कानपुर नहीं जाएंगे मनीष के दोस्त, गोरखपुर ही आएंगे हरबीर और प्रदीप; आखिरी बयान दर्ज कर रिपोर्ट लगाएगी SIT

गोरखपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यही हरबीर और प्रदीप का आखिरी बयान दर्ज होगा और SIT अपनी रिपोर्ट पर फाइनल मुहर लगाएगी। - Dainik Bhaskar
यही हरबीर और प्रदीप का आखिरी बयान दर्ज होगा और SIT अपनी रिपोर्ट पर फाइनल मुहर लगाएगी।

आरोपित पुलिस वालों की गिरफ्तारी के लिए ताबड़तोड़ दबिशें तो पड़ रही हैं, लेकिन सूत्रों का दावा है कि इससे पहले आरोपित कोर्ट में सरेंडर कर सकते हैं। इसके लिए उन्होंने अपने सलाहकारों से संपर्क करना भी शुरू कर दिया है। जबकि दूसरी तरफ सूत्र यह भी बताते हैं कि आरोपित संपर्क किसी अन्य जिले में करेंगे और पुलिस और SIT को गुमराह कर किसी अन्य जिले के कोर्ट में सरेंडर करेंगे।

हालांकि मंगलवार की शाम तक उन्होंने बेल या स्टे के लिए हाईकोर्ट में कोई प्रार्थना पत्र नहीं दाखिल किया है। दावा है कि वह SIT रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं। ताकि, रिपोर्ट आने के बाद वह अपना अगला कदम उठा सकें।

गुरुवार की सुबह हरबीर और प्रदीप गोरखपुर पहुंच जाएंगे।
गुरुवार की सुबह हरबीर और प्रदीप गोरखपुर पहुंच जाएंगे।

SIT के साथ ही कानपुर पुलिस भी पूरी तरह सक्रिय
दोस्तों के साथ गोरखपुर घूमने आए मनीष गुप्ता हत्याकांड में कानपुर से जांच करने गोरखपुर पहुंची SIT मामले के फाइनल स्टेज पर पहुंच चुकी है। शायद यही वजह है कि अब गोरखपुर से बयान दर्ज कराने मनीष के तीन दोस्त कानपुर नहीं जाएंगे, बल्कि गुड़गांव के रहने वाले मनीष के दोनों दोस्त गुरुवार को गोरखपुर आएंगे। यहीं हरबीर और प्रदीप का आखिरी बयान दर्ज होगा और SIT अपनी रिपोर्ट पर फाइनल मुहर लगाएगी। जबकि हरबीर और प्रदीप बुधवार को ही कानपुर पहुंच गए। उधर, इस हत्याकांड की गुत्थी सुलझते ही SIT के साथ ही कानपुर पुलिस भी पूरी तरह सक्रिय हो गई। कानपुर पुलिस कमिश्नर असीम अरुण खुद पीड़ित परिवार के घर पहुंच कर मृतक की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता और उनके परिवार से जानकारी जुटा रहे हैं।

कानपुर में मृतक के घर पहुंचे कमिश्नर असीम अरुण तीन घंटे से उनकी पत्नी मीनाक्षी और मनीष के दोस्त हरबीर और प्रदीप के बयान दर्ज करा रहे हैंं।
कानपुर में मृतक के घर पहुंचे कमिश्नर असीम अरुण तीन घंटे से उनकी पत्नी मीनाक्षी और मनीष के दोस्त हरबीर और प्रदीप के बयान दर्ज करा रहे हैंं।

पत्नी मीनाक्षी और मनीष के दोस्तों का हो रहा बयान
दूसरी ओर कानपुर में मृतक के घर पहुंचे कमिश्नर असीम अरुण तीन घंटे से उनकी पत्नी मीनाक्षी और मनीष के दोस्त हरबीर और प्रदीप के बयान दर्ज करा रहे हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि SIT इस मामले में आखिरी नतीजे पर पहुंच चुकी है और जल्द ही अपनी रिपोर्ट कमिश्नर के जरिए शासन को भेज सकती है। जबकि इसके साथ ही चल रही इस मामले की विवेचना में भी चार्जशीट लगने का वक्त अब आ गया है। माना जा रहा है कि SIT की रिपोर्ट के साथ ही कानपुर पुलिस अपनी चार्जशीट दाखिल कर सकती है।

आरोपित पुलिस वालों की गिरफ्तारी के लिए ताबड़तोड़ दबिशें तो पड़ रही हैं, लेकिन सूत्रों का दावा है कि इससे पहले आरोपित कोर्ट में सरेंडर कर सकते हैं।
आरोपित पुलिस वालों की गिरफ्तारी के लिए ताबड़तोड़ दबिशें तो पड़ रही हैं, लेकिन सूत्रों का दावा है कि इससे पहले आरोपित कोर्ट में सरेंडर कर सकते हैं।
खबरें और भी हैं...