• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Gorakhpur
  • PM Modi Himself Entered The Fray To Make Yogi CM Again: Tomorrow From Gorakhpur Will Give A Gift Of 10 Thousand Crores To Purvanchal, 3 Thousand Buses Were Set Up To Gather 5 Lakh Crowd

PM मोदी 7 को आएंगे गोरखपुर:5 लाख की भीड़ जुटने के लिए लगाई गई 3 हजार बसें, खाद कारखाने औार एम्स का लोकार्पण करेंगे

गोरखपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खाद कारखाना, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) और वॉयरोलॉजी (ICMR) की 9 लैबों के साथ ही कुछ अन्य विकास कार्यों का लोकार्पण पीएम करेंगे। - Dainik Bhaskar
खाद कारखाना, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) और वॉयरोलॉजी (ICMR) की 9 लैबों के साथ ही कुछ अन्य विकास कार्यों का लोकार्पण पीएम करेंगे।

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को एक बार फिर विधानसभा चुनाव 2022 में यूपी की सत्ता पर काबिज कराने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद इस बार मैदान में उतर चुके हैं। पीएम मोदी कल यानी कि 7 दिसंबर को गोरखपुर से पूर्वी उत्तर प्रदेश की जनता को 10 हजार करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं की सौगात देंगे। खाद कारखाना, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) और वॉयरोलॉजी (ICMR) की 9 लैबों के साथ ही कुछ अन्य विकास कार्यों का लोकार्पण पीएम करेंगे।

इन परियोजनाओं के शुरू हो जाने से करीब 25 हजार से अधिक लोगों को रोजगार के नए अवसर ​भी मिलेंगे। इस तरह बीते सवा महीने में पीएम मोदी का कल यूपी में 6वां दौरा होगा। खास बात यह है कि इन 6 दौरे में 3 ​दौरा सिर्फ सीएम योगी के गढ़ गोरखपुर का है।

प्रधानमंत्री मोदी के आगमन से पहले यहां तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। यहां 5 लाख लोगों को जुटाने का टारगेट है।
प्रधानमंत्री मोदी के आगमन से पहले यहां तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। यहां 5 लाख लोगों को जुटाने का टारगेट है।

भीड़ जुटाने को लगाई 3 हजार बसें
पीएम पीएम नरेंद्र मोदी की रैली में पहुंचने वाले लोगों के आवागमन से लेकर खान-पान तक की व्यवस्था की गई है। लोगों को रैली स्थल तक लाने और फिर उनके घर तक छोड़ने के लिए 3 हजार बसें लगाई गई हैं। पीएम की रैली में 5 लाख लोगों को जुटाने का लक्ष्य रखा गया है। गोरखपुर समेत आसपास के जिलों से लोगों को कार्यक्रम स्थल तक लाने के लिए करीब तीन हजार बसें लगाई गई हैं। इनमें से एक हजार बसें जिले के भीतर और दो हजार बसें दूसरे जिलों में लगाई गई हैं।

25 पार्किंग स्थल बनाकर तैयार
कार्यक्रम स्थल के आसपास 25 पार्किंग स्थल बनाए गए हैं। कार्यक्रम वाले दिन मंगलवार को ट्रैफिक रूट में बदलाव किया गया है। कई मार्गों से गाड़ियों के आवागमन पर रोक लगाकर उन्हें बदले रूट से चलाने की तैयारी है। कुछ रूटों पर बड़े वाहनों का प्रवेश बंद रहेगा।

46 डॉक्टर और 50 पैरामेडिकल स्टाफ तैनात
प्रधानमंत्री मोदी के कार्यक्रम के लिए 46 डॉक्टरों और 50 पैरामेडिकल स्टाफ की ड्यूटी लगाई गई है। डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों की कोविड जांच करते हुए उन्हें जिम्मेदारियां सौंप दी गई हैं। बीआरडी मेडिकल कॉलेज, एम्स और एयरफोर्स अस्पताल में रेफरल अस्पताल बनाया गया है। सीएमओ डॉ. सुधाकर पांडेय ने बताया कि प्रधानमंत्री की फ्लीट व सेफ हाउस में चार-चार डॉक्टरों तथा मुख्यमंत्री व राज्यपाल की फ्लीट व सेफ हाउस में तीन-तीन डॉक्टरों की ड्यटी लगाई गई है। भोजन की जांच के लिए और हेलीपैड पर दो-दो डॉक्टर तैनात किए गए हैं। डॉक्टरों की निगरानी की जिम्मेदारी एसीएमओ डॉ. एके प्रसाद व डॉ. एके चौधरी को दी गई है।

सांसदों, विधायकों की हुई कोविड जांच
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम में शामिल होने वाले सभी सांसदों और विधायकों की रविवार को कोरोना जांच की गई। सभी की एंटीजन से रिपोर्ट निगेटिव आई है। जबकि आरटी-पीसीआर के लिए सैंपल बीआरडी मेडिकल कॉलेज के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में भेजे गए हैं, जिसकी रिपोर्ट सोमवार को आएगी। सीएमओ डॉ. सुधाकर पांडेय ने बताया कि सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मियों की भी जांच की गई है। इन सबकी भी रिपोर्ट निगेटिव आई है।

खबरें और भी हैं...