पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Gorakhpur
  • Police Caught Two Smugglers, Recovered Bundles Of Counterfeit Notes; ATS Also Started Investigation,Gorakhpur, Gorakhpur News, Gorakhpur Crime, Gorakhpur Crime News, Gorakhpur Police, Fake Currency, Fake Currency, Fake Currency Bussinuss In Gorakhpur, Indain Fake Currency, Breking News Gorakhpur, UP ATS

गोरखपुर में बिहार से हो रही नकली नोटों की सप्लाई:पुलिस ने दो तस्करों को पकड़ा, जाली नोटों की गड्डियां बरामद; ATS ने भी शुरू की जांच

गोरखपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने इस गैंग के दो सदस्यों को पकड़ा है। उनके पास से 200 और 100 रुपए के जाली नोट की गड्डियां भी बरामद हुई है। दोनों से पुलिस पूछताछ कर रही है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने इस गैंग के दो सदस्यों को पकड़ा है। उनके पास से 200 और 100 रुपए के जाली नोट की गड्डियां भी बरामद हुई है। दोनों से पुलिस पूछताछ कर रही है।

देश में नकली नोट के कारोबार पर पूरी तरह अंकुश लगाने के लिए ​नोटबंदी कर नए नोटों को चलन में लाने के बाद एक बार फिर इसमें सेंध लगने लगी है। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में बिहार से नकली नोटों की सप्लाई हो रही है। कैंट थाने की इंजीनियरिंग कॉलेज चौकी पुलिस ने जाली नोटों की सप्लाई करने वाले गैंग का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने इस गैंग के दो सदस्यों को पकड़ा है। उनके पास से 200 और 100 रुपए के जाली नोट की गड्डियां भी बरामद हुई है। दोनों से पुलिस पूछताछ कर रही है।

वहीं, इसकी सूचना मिलते ही यूपी एटीएस के भी कान खड़े हो गए हैं। एटीएस की गोरखपुर टीम भी इस मामले की पड़ताल में जुट गई है। उम्मीद है जल्द ही पुलिस और यूपी एटीएस की टीम नकली नोट के कारोबार से जुड़ा बड़ा खुलासा कर सकती है। एसएसपी दिनेश कुमार प्रभु ने कहा कि पकड़े गए दोनों आरोपितों से पूछताछ की जा रही है। जल्द ही इस मामले का खुलासा किया जाएगा।

इंजीनियरिंग कॉलेज इलाके से पकड़े गए तस्कर
कैंट इलाके के इंजीनियरिंग कॉलेज चौकी की पुलिस ने शनिवार की रात जाली नोटों के कारोबार से जुड़े दो तस्करों को इंजीनियरिंग कॉलेज इलाके से पकड़ा है। इनमें से पुलिस ने पहले एक आरोपित को रानीडिहा दिव्यनगर मोड़ से पकड़ा। उसके पास से 200 रुपए के 11 जाली नोट बरामद हुए हैं। वह फल की दुकान पर जाली नोट चला रहा था। उसकी निशानदेही पर पुलिस ने उसके सिंघड़िया स्थित किराए के कमरे से उसके दूसरे साथी को भी पकड़ लिया। उसके पास से 200 और 100 रुपए के नकली नोटों की एक- एक गड्डियां बरामद हुई। हालांकि कुल कितने के नोट हैं, फिलहाल यह स्पष्ट नहीं हो सका है।

बिहार से जुड़ा है नकली नोटों का तार
दोनों तस्कर बिहार से जुड़े बताए जा रहे हैं। इनमें एक गोरखपुर जिले के बांसगांव इलाके का रहने वाला फकरूदृीन, जबकि दूसरा बिहार सिवान का रहने वाला दिलशेर बताया जा रहा है। पुलिस के मुताबिक दोनों बिहार से नकली नोटों की खेप गोरखपुर लाकर यहां से अन्य शहरों में इसकी सप्लाई करते हैं। हालांकि नकली नोटों के कारोबार में ​पकड़े गए सिर्फ ये दो तस्कर ही नहीं, बल्कि इस गैंग के पीछे एक बड़ा नेटवर्क काम कर रहा है। जिसकी तलाश में पुलिस व यूपी एटीएस की टीम लग गई है।

देश भर में पहुंचाई जा रही नकली नोटों की खेप
पुलिस सूत्रों के मुताबिक इस इन तस्करों को बिहार का रहने वाला राजन तिवारी नाम का शख्स नोटों की सप्लाई दे रहा है। इन दोनों के जैसे दर्जनों तस्कर नकली नोटों की छोटी-छोटी खेप देश भर में पहुंचा रहे हैं। हालांकि इस गैंग के पीछे कोई इंनटनेशनल कनेक्शन है या नहीं, इसकी जांच की जा रही है। पुलिस पकड़े गए दोनों तस्करों से पूछताछ कर रही है। वहीं, पुलिस इस गैंग की तलाश में बिहार भी जा सकती है। उम्मीद है जल्द ही गोरखपुर पुलिस नकली नोटों के कारोबार से जुड़ा बड़ा खुलासा कर सकती हैं।

खबरें और भी हैं...