पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Gorakhpur
  • Railway Employee's Son Wanted To Extort Money From His Own Family Members; Created A False Story Of His Own Kidnapping, The Police Arrested,Gorakhpur, Gorakhpur News, Gorakhpur Kidnepping, Kidnepped Boy In Gorakhpur, Gorakhpur Police, Gorakhpur Crime News, Breking News Gorakhpur, Gorakhpur News Today

अपहरण की झूठी कहानी ने पहुंचा दिया जेल:अपने ही घर वालों से रुपए ऐंठना चाहता था रेलवे कर्मचारी का बेटा; रच दी खुद के अपहरण की झूठी कहानी, पुलिस ने किया गिरफ्तार

12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने राजेंद्र के खिलाफ अपहरण की साजिश रचना, झूठी सूचना देने और धमकी देने का केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने राजेंद्र के खिलाफ अपहरण की साजिश रचना, झूठी सूचना देने और धमकी देने का केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के एक हैरान कर देने वाली खबर आई है। यहां शाहपुर इलाके के कलकत्ता रेलवे कॉलोनी से मंगलवार को गायब हुए राजेंद्र गौड़ ने घरवालों से रुपये पाने के लालच में खुद ही अपने अपहरण की झूूठी कहानी रची थी। पुलिस ने राजेंद्र के खिलाफ अपहरण की साजिश रचना, झूठी सूचना देने और धमकी देने का केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। बुधवार को पुलिस ने आरोपित को कोर्ट में पेश किया जहां से उसे जेल भेजा गया है।

पुलिस ने दर्ज किया था अपहरण का केस
सीओ गोरखनाथ रत्नेश सिंह के मुताबिक, शाहपुर इलाके के कलकत्ता रेलवे कॉलोनी निवासी सत्यनारायण लाल रेलवे कर्ममचारी है। उनके बेटे राजेंद्र गौड़ मंगलवार को रहस्यमय हाल में लापता हो गए थे। पुलिस को उनके अपहरण की सूचना दी गई। सूचना पाते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और फिर अज्ञात पर अपहरण का केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

जांच के दौरान ही पुलिस को हो गया था शक
पुलिस को जांच के दौरान राजेंद्र गौड़ पर ही शक हो गया। बुधवार को पुलिस ने उसे शाहपुर इलाके में एक मकान से पकड़ लिया। पूछताछ में पता चला कि उसे रुपये की जरूरत थी और घरवाले देने को तैयार नहीं थे। उसे लगा कि इस तरह से वह घर से आसानी से रुपये पा सकता है। इसी वजह से उसने फर्जी अपहरण की कहानी गढ़ी थी। पुलिस ने 24 घंटे के अंदर घटना का पर्दाफाश कर राजेंद्र को ही आरोपी बनाकर जेल भेज दिया है।

खबरें और भी हैं...