पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी के विवादित बोल:जनसंख्या नियंत्रण कानून पर कहा- पीएम और सीएम निरवंश हैं, जो चाहे वो कानून लाएं

बलिया3 महीने पहले
नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने बलिया में जनसंख्या नियंत्रण को लेकर मीडिया से बातचीत की।

उत्तर प्रदेश के बलिया में सपा नेता रामगोविंद चौधरी ने जनसंख्या नियंत्रण कानून पर बयान देकर विवादों के घेरे में आ गए हैं। उन्होंने पीएम और सीएम को निरवंश बताया है। अब उनके बयान की काफी चर्चा हो रही है।

नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने बलिया में जनसंख्या नियंत्रण को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा कि यह काम मोबलाइजेशन से किया जा सकता है। कानून से दंडात्मक कार्यवाही होती है। बोलते-बोलते वो यह भी बोल गए कि जनसंख्या न बढ़े यह सच है, जनसंख्या प्राकृतिक देन है। पीएम और सीएम निरवंश हैं, इसलिए जो चाहे वो कानून लाएं।

कहा- पत्नी, परिवार का दर्द वो क्या जानें
राम गोविंद चौधरी यहीं नहीं रुके। उन्होंने यह भी कहा कि पीएम और सीएम दोनों परिवार विहीन हैं, उन्हें पत्नी, परिवार का दर्द नहीं मालूम। जनता से उन्हें प्रेम नहीं है। उनका परिवार नहीं, लिहाज़ा उन्हें परिवार का दर्द नही पता।

जनसंख्या नियंत्रण कानून पर चल रही है बहस

यूपी में मौजूदा समय में जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर बहस चल रही है। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी का इस म़ुद्दे पर विवादित बयान आया है। उन्होंने कहा, 'जनसंख्या वृद्धि को कानून लाकर रोका नहीं गया तो आने वाले दिनों में देश में बड़ा जनसंख्या विस्फोट हो सकता है। देश में मुसलमानों की संख्या इतनी ज्यादा हो जाएगी कि हिंदुओं का रहना मुश्किल हो जाएगा।'

खबरें और भी हैं...