गोरखपुर...पहले दिन 8320 बच्चों को लगी वैक्सीन की पहली डोज:ग्रामीण इलाकों के टीनेजर्स ने दिखाई जागरूकता; सभी स्कूलों और बूथों शुरु हुई वैक्सीनेशन

गोरखपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक पहले दिन 10 हजार किशोरों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है। - Dainik Bhaskar
स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक पहले दिन 10 हजार किशोरों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में भी कोविड टीकाकरण अभियान के तहत 15 से 18 वर्ष के किशोरों को टीका लगाने की शुरुआत सोमवार से हो गई है। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक पहले दिन 10 हजार किशोरों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया। ​हालांकि पहले दिन सोमवार को जिले के 70 बूथों पर कुल 8320 बच्चों को वैक्सीन की पहली डोज लगी। इसके लिए 20 विद्यालयों में किशोरों के लिए बूथ बनाए गए हैं। इसके अलावा 18 वर्ष की आयु से ऊपर के 30 हजार लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है। 10 जनवरी से स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्करों और चुनाव में ड्यूटी करने वाले कर्मियों को बूस्टर डोज लगाई जाएगी।

ग्रामीण विधायक ने किया शुभारंभ
सीएमओ डॉ आशुतोष कुमार दूबे ने बताया कि किशोरों के टीकाकरण का शुभारंभ समेकित क्षेत्रीय कौशल विकास पुनर्वास एवं दिव्यांगजन सशक्तीकरण केंद्र (सीआरसी) सीतापुर आंख अस्पताल में हुआ। उद्घाटन सुबह 10.30 बजे ग्रामीण विधायक विपिन सिंह ने किया। किशोरों को लगाने के लिए कोवैक्सीन की 50 हजार डोज मिली है।

बूथों पर ऑनस्पॉट पंजीकरण करते हुए टीका लगाया जा रहा है। सभी बूथों पर वैक्सीनेटर की ड्यूटी लगा दी गई है।
बूथों पर ऑनस्पॉट पंजीकरण करते हुए टीका लगाया जा रहा है। सभी बूथों पर वैक्सीनेटर की ड्यूटी लगा दी गई है।

ऑन-स्पॉट रजिस्ट्रेशन कर भी लगवा सकते वैक्सीन
जो किशोर कोविन एप पर पंजीकरण नहीं करा सके हैं उन्हें भी बूथों पर ऑनस्पॉट पंजीकरण करते हुए टीका लगाया जा रहा है। सभी बूथों पर वैक्सीनेटर की ड्यूटी लगा दी गई है। किशोरों के लिए 70 बूथ बनाए गए हैं, लेकिन यह छूट भी है कि वह किसी भी बूथ पर टीका लगवा सकते हैं। सभी बूथों पर कोवैक्सीन टीका सोमवार सुबह भेज दिया गया।

इंटरमीडिएट स्कूलों में लगा कैंप
इंटरमीडिएट स्कूलों में 15 से 18 वर्ष तक के किशोर बड़ी संख्या में पढ़ते हैं। यही कारण है कि इंटरमीडिएट कॉलेजों में कैंप लगाने का फैसला स्वास्थ्य विभाग ने लिया। जिससे ज्यादा किशोरों को टीका लगाया जा सके।

किशोरों के लिए बनाए गए मुख्य बूथ
सीआरसी, सीतापुर आंख अस्पताल, लिटिल फ्लावर धर्मपुर, एम्स, पीएचसी मोहद्दीपुर, पीएचसी निजामपुर, पीएचसी शाहपुर, सरस्वती विद्या मंदिर पक्की बाग, रेल विहार फेज-तीन और जिले के 19 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र। जिले में 15 वर्ष से उर 2.50 लाख बच्चे ऐसे हैं जिनका टीका लगना है। सीएमओ डॉ. आशुतोष कुमार दूबे ने बताया कि सीआरसी पर दिव्यांग बच्चों के साथ वैक्सीनेशन का शुभारंभ किया गया।

11 जनवरी से होगा हेल्थ केयर वर्कर्स के वैक्सीनेशन
सीएमओ ने बताया कि टीनेजर्स के वैक्सीनेशन का शुभारंभ होने के बाद बच्चों की संख्या के लिए अलग से डाटा बनाया जाएगा। उसके बाद 11 जनवरी से हेल्थ केयर वर्कर्स, फ्रंट लाइन वर्कर्स और 60 वर्ष से उपर के सीनियर सिटीजन के लिए लिस्ट बनाए जाने की प्रक्रिया शुरु कर दी गई है। वहीं शासन से आदेश प्राप्त होने के बाद 12 वर्ष से 15 वर्ष तक के बच्चों के लिए भी वैक्सीनेशन के लिए गाइडलाइन नहीं आई है।

फैक्ट फीगर

  • जिले में 15 वर्ष से उर 2.50 लाख बच्चे ऐसे हैैं जिनका टीका लगना है।
  • 33,285 हेल्थ केयर वर्कर्स हैं
  • 60 वर्ष से उपर सीनियर सिटीजन हो सके हैं उनकी संख्या 4,49,077 है
  • इनके वैक्सीनेशन की डेट 11 जनवरी से शुरु की जाएगी।

इन प्रमुख स्थानों पर होगा टीनेजर्स का वैक्सीनेशन

  • सीआरसी, सीतापुर आई हास्पिटल
  • लिटिल फ्लावर, धर्मपुर
  • एम्स, कूड़ाघाट
  • पीएचसी, मोहद्दीपुर
  • पीएचसी, निजामपुर
  • पीएचसी, शाहपुर
  • सरस्वती विद्या मंदिर पक्की बाग
  • रेल विहार फेज-तीन
  • रुरल एरिया के सभी ब्लॉक - 20
  • रुरल एरिया के सभी सीएचसी - 19

इन डाक्यूमेंट्स का करें इस्तेमाल

  • आधार कार्ड
  • स्कूल आईकार्ड

कैसे करें रजिस्ट्रेशन

  • कोविन एप्प पर जाएं
  • आईडी जनरेट करें
  • मोबाइल नंबर डालते ही ओटीपी डालें
  • 15-18 वर्ष वाले कॉलम में जाएं
  • उसके बाद डेट और टाइम के साथ बूथ के स्लॉट बुक करें

फैक्ट फीगर
इन सभी को लगाया जाएगा नए साल में वैक्सीन

  • 15 वर्ष से उपर के बच्चे - 2,50,000
  • हेल्थ केयर वर्कर्स - 33,285,
  • फ्रंट लाइन वर्कर्स - 30,183
  • 60 वर्ष से उपर - 4,49,077

मौजूद वैक्सीन

  • को-वैक्सीन - 50,000
  • कोविशील्ड - 65,345

वैक्शीनेशन का शुभारंभ कर दिया गया है
सीएमओ डॉ आशुतोष कुमार दूबे ने बताया कि तीन जनवरी से 15 वर्ष से उपर के टीनेजर्स के वैक्सीनेशन का शुभारंभ कर दिया गया है। इसके लिए वैक्सीन पर्याप्त मात्रा में आ चुकी है। ऑनलाइन और स्पॉट रजिस्ट्रेशन के जरिए भी वैक्सीनेशन करा सकेंगे।

खबरें और भी हैं...