गोरखपुर...CM के जनता दर्शन में पहुंचा अनोखा मामला:फरियादी बोला- महाराज जी...मुझे चपरासी की नौकरी दे दीजिए, मेरी शादी नहीं हो रही

गोरखपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गोरखनाथ मंदिर के हिंदु सेवाश्रम और यात्री निवास में लगे जनता दर्शन में अपनी विभिन्न समस्याओं को लेकर करीब 175 फरियादी पहुंचे। - Dainik Bhaskar
गोरखनाथ मंदिर के हिंदु सेवाश्रम और यात्री निवास में लगे जनता दर्शन में अपनी विभिन्न समस्याओं को लेकर करीब 175 फरियादी पहुंचे।

3 दिनों के दौरे पर गोरखपुर आए CM योगी ने रविवार को भी यहां गोरखनाथ मंदिर में जनता दरबार लगाया। इस दौरान CM के सामने एक ऐसा अनोखा मामला पहुंचा, जिसे सुन CM योगी भी अपनी हंसी रोक नहीं सके। योगी से एक फरियादी ने चपरासी की नौकरी मांगी। उसने कहा ​कि महाराज जी...मुझे चपरासी की नौकरी दे दीजिए। नौकरी नहीं होने की वजह से मेरी शादी नहीं हो पा रही है। जिसकी वजह से मैं काफी परेशान चल रहा हूं।

फरियादी की बात सुनते ही जनता दर्शन में जोर- जोर ठहाके लगने लगे। CM ने भी मजाक में कहा कि तुम चुनाव में टिकट के लिए क्यों नहीं प्रयास करते? हालांकि इसके बाद सीएम योगी ने फरियादी की समस्या से जुड़ी लिखित शिकायत हाथ में ले ही और उसकी समस्या के निस्तारण का भी भरोसा दिलाया।

जनता दर्शन में खूब लगे ठहाके
दरअसल, CM के सामने रविवार को गुलरिहा इलाके के भटहट का रहने वाला एक सूरज नाम का फरियादी पहुंचा। हालांकि स्थानीय होने की वजह से CM योगी भी उसे शक्ल से पहचान रहे थे। CM को देखते उसने हाथ जोड़कर कहा कि महाराज जी...मुझे चपरासी की नौकरी दे दीजिए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सुबह मंदिर का भ्रमण किया और गुरु गोरक्षनाथ के साथ ही अपने गुरु ब्रह्मलीन महंत अवैद्यनाथ की समाधि पर मत्था टेक उनका आशीर्वाद लिया।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सुबह मंदिर का भ्रमण किया और गुरु गोरक्षनाथ के साथ ही अपने गुरु ब्रह्मलीन महंत अवैद्यनाथ की समाधि पर मत्था टेक उनका आशीर्वाद लिया।

नौकरी नहीं होने की वजह से मेरी शादी नहीं हो पा रही है। इससे मैं काफी परेशान हूं। यह सुनते ही मुख्यमंत्री योगी हंस पड़े। उनके साथ ही वहां मौजूद अधिकारी भी ठहाके लगाने लगे। थोड़ी देर तक जनता दर्शन में पूरा हंसी- मजाक का माहौल हो गया।

175 लोगों की सीएम योगी ने सुनी फरियाद
वहीं, गोरखनाथ मंदिर के हिंदु सेवाश्रम और यात्री निवास में लगे जनता दर्शन में अपनी विभिन्न समस्याओं को लेकर करीब 175 फरियादी पहुंचे। सीएम ने एक- एक कर सबकी समस्या सुनी और उन्हें जल्द कार्रवाई की भरोसा दिलाया। इस दौरान पुलिस से संबंधित शिकायतें और अधिकांश जमीनी विवादों के मामले ही सीएम के सामने पहुंचे।

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सुबह मंदिर का भ्रमण किया और गुरु गोरक्षनाथ के साथ ही अपने गुरु ब्रह्मलीन महंत अवैद्यनाथ की समाधि पर मत्था टेक उनका आशीर्वाद लिया। गोरखानाथ मंदिर में पत्रकार वार्ता के बाद सीएम योगी वाराणसी के लिए रवाना हो गए।