छेड़खानी का विरोध किया तो चेहरे पर चाकू से हमला:बलिया में घर में घुसकर दबंग ने की लड़की से छेड़खानी; विरोध पर हाथ बांधकर चाकू से किए 15 वार, 20 टांके लगे

बलिया6 महीने पहले
अस्पताल में घायल किशोरी को लाया गया, जहां डॉक्टर्स ने तुरंत उसके चेहरे पर मरहम पट्टी की। घाव काफी गहरे थे। उसे रेफर कर दिया गया।

उत्तर प्रदेश के बलिया में एक झकझोर देने वाली घटना सामने आई है। यहां एक सिरफिरे युवक ने घर में अकेला देख नाबालिग लड़की से छेड़छाड़ की। लड़की ने जब विरोध किया तो आरोपी ने उसके हाथ बांध दिए और चेहरे पर ताबड़तोड़ चाकू से 15 वार किए। किशोरी ने मदद के लिए शोर मचाया तो पड़ोसी आ गए। यह देख आरोपी भाग निकला। पड़ोसियों ने कमरे में लहूलुहान पड़ी लड़की को तत्काल अस्पताल पहुंचाया।

घटना की सूचना मिलते ही एसपी किशोरी का हाल जानने अस्पताल पहुंचे। चाकू के हमले से बुरी तरफ किशोरी का चेहरा बिगड़ गया था। एसपी ने सीएमओ से बात कर लड़की को बेहतर इलाज के लिए बीएचयू रेफर कराया। जहां किशोरी की हालत गंभीर बनी हुई है। साथ ही एसपी ने कहा है कि युवती का इलाज पुलिस कराएगी। परिजनों से तहरीर मिलने के बाद एसपी ने आरोपी युवक को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

घर में टीवी देख रही थी किशोरी

घटना जिले के बांसडीहरोड थाने के एक गांव की है। गांव की किशोरी सोमवार दोपहर घर में अकेली थी। लड़की के परिवार में सिर्फ उसके पिता हैं। वह खेत पर गए थे, तभी आरोपी घर में घुस आया और जोर जबरदस्ती करने लगा। लड़की ने मना किया तो हाथापाई पर उतर आया। लड़की भागकर बाहर जाने लगी तो उसे पकड़ लिया और उसके हाथ बांधकर चाकू से चेहरे पर 15 वार कर दिए। एक के बाद एक कई वार करने से किशोरी बुरी तरह जख्मी हो गई। लड़की कमरे में ही गिर पड़ी। पूरा चेहरे खून से भर आया। चीखें सुनकर पड़ोसी दौड़कर आए।

पड़ोसियों ने किशोरी को पहुंचाया सीएचसी

किशोरी की आवाज सुनने के थोड़ी देर बाद पड़ोस में रहने वाले लोग उसके घर पहुंचे। कमरे में लहूलुहान पाकर पड़ोसियों ने किशोरी को आनन-फानन में सोनवानी सीएचसी पहुंचाया। जहां डॉक्टरों ने प्राथमिक इलाज के बाद किशोरी को सदर अस्पताल रेफर कर दिया। इस बीच पड़ोसियों ने किशोरी के परिजनों को हादसे की सूचना दी।

एसपी पहुंचे अस्पताल, परिजनों ने दी तहरीर

हादसे की सूचना मिलते ही जिले के एसपी डॉ. विपिन टाडा अस्पताल पहुंचे। अस्पताल पहुंचकर उन्होंने किशोरी के परिजनों से मुलाकात कर किशोरी का हालचाल जाना। किशोरी के पिता ने गांव के ही यशवंत सिंह पर हमले का आरोप लगाते हुए एसपी से शिकायत की। इसके बाद एसपी ने सीएमओ से बात कर घायल किशोरी को बीएचयू रेफर कराया। तहरीर मिलते ही पुलिस ने आरोपी की तलाश शुरू कर दी। उसे पकड़ लिया गया है।

पुलिस हिरासत में आरोपी यशवंत।
पुलिस हिरासत में आरोपी यशवंत।

पूछताछ में आरोपी बोला, नहीं आ रही थी घर

पूछताछ में आरोपी यशवंत ने बताया कि लड़की उसके घर पर खाना बनाती थी। पत्नी छोड़कर जा चुकी है। वह अपने दो बच्चों के साथ रहता है। लड़की ने खाना बनाने से इनकार कर दिया था और घर नहीं आती थी। इसी के चलते सोमवार को घर पहुंच गया। वहीं, लड़की के पिता का कहना है कि लड़की खाना बनाने जाती थी, तब भी आरोपी उस पर गलत नजर रखता था। छेड़छाड़ करता रहता था, लड़की ने जाने से मना कर दिया तो घर पर आ धमका।

खबरें और भी हैं...