इलेक्ट्रिक बस के बाद अब पूजा ने चलाया टैंकर:गोरखपुर की महिला ने चलाया भारी वाहन, दिया बराबरी का संदेश

गोरखपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पूजा पीएमआई की बसों की एकमात्र महिला चालक हैं। - Dainik Bhaskar
पूजा पीएमआई की बसों की एकमात्र महिला चालक हैं।

गोरखपुर की पहली महिला बस ड्राइवर पूजा प्रजापति ने गोरखपुर की सड़कों पर इलेक्ट्रिक बस दौड़ाने के बाद अब टैंकर दौड़ा दिया। शहर के विभिन्न इलाकों में टैंकर चलाकर पूजा ने न कि सिर्फ महिला सशक्तिकरण का बल्कि स्वच्छता का भी संदेश दिया। दरअसल, पूजा पीएमआई की बसों की एकमात्र महिला चालक हैं।

इससे पहले बुधवार को उन्होंने इलेक्ट्रिक बसों के ट्रायल के दौरान यहां इलेक्ट्रिक बस भी चलाई थी। अब शहर में उन्होंने इंजीनियरिंग कॉलेज, कूड़ाघाट, मोहद्दीपुर, अंबेडकर चौक, शास्त्री चौक, टाउन हाल, कचहरी चौराहा, गोलघर, गणेश चौराहा से काली मंदिर टैंकर चलाकर सड़कों की धुलाई की और लोगों को स्वछता का संदेश दिया।

10 साल से बस, ट्रक, टैंकर, ट्रेलर चला रही हैं पूजा
दरअसल, पीएमआई की बसों की एकमात्र महिला चालक पूजा कुमारी इलेक्ट्रिक बस से सुरक्षित सफर कराएंगी। पुरुषों के दबदबे वाले क्षेत्र में पिछले दस सालों से पूजा एक्टिव हैं। वह ट्रक, टैंकर, ट्रेलर चला रही हैं। गोरखपुर के डिभिया गांव की रहने वाली पूजा सीआरडीपीजी कालेज से राजनीति शास्त्र से एमए कर रही हैं। टाटा मोटर्स की ओर से आयोजित होने वाले ट्रक रेस में भी वह शामिल होती रही हैं।

पूजा उन महिलाओं के लिए एक मिसाल हैं जो इसे छोटा या पुरुषों का काम मानती हैं। पूजा कहती हैं- दुनिया तेजी से बदल रही हैं। महिलाएं लड़ाकू विमान उड़ा रही हैं। अब महिलाओं को अपनी सोच में बदलाव लाकर नए और चुनौती वाले कार्य स्वीकार करने चाहिए।

जिम्मेदारी मिली तो फ्री देंगे ट्रेनिंग
पूजा ने बताया कि शहर में अगर कोई ड्राइविंग एकेडमी खुली और उनको मौका मिला तो वह महिलाओं को निशुल्क ड्राइविंग की ट्रेनिंग देंगी। उन्होंने कहा कि जो महिलाएं शिक्षित होने के बाद भी बेराजगार हैं, उन्हें ड्राइविंग की ट्रेनिंग लेकर काम शुरू करना चाहिए। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि उन्हें एक मौका मिला है। वह इलेक्ट्रिक सिटी बस में चालक के रूप में अपनी सेवाएं देंगी।

खबरें और भी हैं...