गोरखपुर में बनेगा स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट:प्रदेश के पहले HIHM को मिली केंद्र की मंजूरी, 16.50 करोड़ रुपए भी आवंटित; जल्द सीएम योगी रख रखेंगे आधारशिला

गोरखपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इसमें 10 करोड़ रुपये बिल्डिंग निर्माण, 2.50 करोड़ रुपये उपकरण खरीद और चार करोड़ रुपये हॉस्टल निर्माण के लिए आवंटित किए गए हैं। - Dainik Bhaskar
इसमें 10 करोड़ रुपये बिल्डिंग निर्माण, 2.50 करोड़ रुपये उपकरण खरीद और चार करोड़ रुपये हॉस्टल निर्माण के लिए आवंटित किए गए हैं।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में रहने वाले लोगों के लिए एक अच्छी खबर है। यहां यूपी के पहले स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट (HIHM) के लिए भारत सरकार के मानव संसाधन विकास प्रभाग ने अपनी मंजूरी दे दी है। इसके साथ ही एसआईएचएम के लिए 16.50 करोड़ रुपये आवंटित भी कर दिए गए हैं। इसमें 10 करोड़ रुपये बिल्डिंग निर्माण, 2.50 करोड़ रुपये उपकरण खरीद और चार करोड़ रुपये हॉस्टल निर्माण के लिए आवंटित किए गए हैं।

मानव संसाधन विकास प्रभाग के उप महानिदेशक ने प्रदेश सरकार के प्रमुख सचिव और महाप्रबंधक पर्यटन एवं संस्कृति विभाग से जल्द इंस्टीट्यूट निर्माण के लिए डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार कर भेजने को कहा गया है। साथ ही मानव संसाधन विकास प्रभाग की तरफ से राज्य सरकार को इंडियन होटल मैनेजमेंट (आईएचएम) सोसाइटी में इस इंस्टीट्यूट का पंजीकरण कराने को कहा है। एक शर्त भी रखी है कि खर्च अनुमानित लागत से अधिक होने की दशा में उसका वहन राज्य सरकार को करना पड़ेगा।

दीवाली तक हो सकता है शिलान्यास
दरअसल, जुलाई में पिपराइच ब्लॉक के अगया गांव में पांच एकड़ जमीन इंस्टीट्यूट के नाम अंकित कर दी गई थी। लेकिन महाप्रबंधक पर्यटन विभाग ने इसे अनुपयोगी बताते हुए जिला प्रशासन को दूसरी जगह जमीन चिह्नित करने के लिए कहा है। इसपर डीएम विजय किरन आनंद ने सीईओ गीडा को गीडा क्षेत्र में ही इंस्टीट्यूट के लिए जमीन तलाशने का निर्देश दिया है। इस इंस्टीट्यूट का संचालन पर्यटन विभाग करेगा। ऐसे में दशहरा या दीवाली के मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इसकी आधारशिला रख सकते हैं।

कम खर्च में कर सकेंगे पढ़ाई
इस संस्थान में प्रवेश लेने वाले छात्रों को कम खर्च पर होटल मैनेजमेंट की पढ़ाई करने का मौका मिलेगा। इससे न केवल गोरखपुर, बल्कि पूरे पूर्वांचल समेत बिहार से सटे जिलों व नेपाल के विद्यार्थियों को भी लाभ मिलेगा।

400 से अधिक स्टूडेंट्स के पढ़ाई की होगी व्यवस्था
इंस्टीट्यूट में 400 से अधिक छात्र-छात्राओं को पढ़ाने की व्यवस्था होगी। शहर के होटलों के साथ इस संस्थान का अनुबंध भी होगा। संस्थान में होटल मैनेजमेंट के क्षेत्र में डिप्लोमा से लेकर बैचलर एवं मास्टर डिग्री तक के पाठ्यक्रम संचालित होंगे। संस्थान में शिक्षकों और सभी कर्मचारियों की नियुक्ति नियमित होगी और सभी सरकारी पे रोल पर होंगे। कमिश्नर रवि कुमार एनजी ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी गोरखपुर में स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट के लिए भारत सरकार की तरफ से भी मंजूरी मिल गई है। मानव संसाधन विकास प्रभाग ने 16.40 करोड़ रुपये भी आवंटित कर दिए हैं। इंस्टीट्यूट के लिए गीडा में जल्द जमीन चिह्नित कर ली जाएगी।

खबरें और भी हैं...