सुसाइड करने जा रही युवती को पुलिस ने बचाया:राप्ती नदी में कूदने जा रही थी युवती, पुलिस ने समझा- बुझाकर भेजा घर

गोरखपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इस मानतवा का काम करने वाले सब इंस्पेक्टर अनूप कुमार मिश्रा की जानकारी जब एसएसपी को हुई तो उन्होंने ऐसा करने वाले पुलिसकर्मियों को बुलाकर सम्मानित किया। - Dainik Bhaskar
इस मानतवा का काम करने वाले सब इंस्पेक्टर अनूप कुमार मिश्रा की जानकारी जब एसएसपी को हुई तो उन्होंने ऐसा करने वाले पुलिसकर्मियों को बुलाकर सम्मानित किया।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक बार फिर पुलिस ने एक युवती की जान बचाई है। घरवालों की बातों से तंग आकर सुसाइड करने जा रही युवती को पुलिस ने ऐसा करने से रोक लिया है। उसे समझा बुझाकर पुलिस ने घरवालों को सुपुर्द किया। जिससे कि उसकी जान बच गई।

इस मानवता का काम करने वाले सब इंस्पेक्टर अनूप कुमार मिश्रा की जानकारी जब एसएसपी को हुई तो उन्होंने ऐसा करने वाले पुलिसकर्मियों को बुलाकर सम्मानित किया।

आधी रात रोते हुए जा रही थी युवती
दरअसल, बीते 11 जनवरी की रात करीब 12 बजे चौकी इंचार्ज ट्रांसपोर्ट नगर अनूप कुमार मिश्र, हेड कांस्टेबल हरेंद्र सिंह और कांस्टेबल अंजनी राय हरबर्ट बंधे से ट्रांसपोर्ट नगर की तरफ पैदल गस्त करते हुए आ रहे थे। इस बीच ट्रांसपोर्ट नगर की तरफ से हरबर्ट बन्धे की ओर एक 18 वर्षीय युवती पैदल रोते हुए जा रही थी। पुलिस ने पास जाकर पूछा तो उसने कुछ भी बताने से इंकार कर दिया। तत्काल पुलिस ने थाने से महिला कांस्टेबल अन्नू सिंह को बुलाया।

SSP से मिला सम्मान

इसके बाद पुलिस उस महिला को ट्रांसपोर्ट नगर चौकी ले आई, जहां महिला कांस्टेबल ने उससे पूछताछ की तो पता चला कि युवती अपने व्यक्तिगत कारणों से आत्महत्या करने जा रही है। पुलिसकर्मियों ने उसे समझा-बुझाकर उसके परिजनो को सुपुर्द किया। इस सराहनीय कार्य के लिए एसएसपी ने सभी पुलिसकर्मियों को सोमवार को बुलाकर सम्मानित किया और उनके कार्य की सराहना भी की।