• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Gorakhpur
  • Three Sadhus Slept Together At Night, One Died In The Morning, Police Engaged In Investigation; Even The Sadhus Who Came Along Do Not Have Any Information About The Name And Address Of The Deceased.

गोरखपुर में दीपावली की रात साधु की संदिग्ध मौत:रात में एक साथ सोए तीन साधु, सुबह एक की मौत, जांच में जुटी पुलिस; साथ आए साधुओं को भी नहीं है मृतक के नाम और पते की कोई जानकारी

गोरखपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फिलहाल साधु की पहचान नहीं हो सकी है। जबकि उनकी उम्र करीब 80 वर्ष बताई जा रही है। - Dainik Bhaskar
फिलहाल साधु की पहचान नहीं हो सकी है। जबकि उनकी उम्र करीब 80 वर्ष बताई जा रही है।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में दीपावली की सुबह शुक्रवार को एक बुजुर्ग साधु की संदिग्ध हालत में लाश मिली है। घटना झंगहा इलाके के ग्राम पंचायत लक्ष्मणपुर गांव की है। सूचना पर पहुंची पुलिस साधु का शव कब्जे में लेकर उसकी शिनाख्त कराने में जुटी है। फिलहाल साधु की पहचान नहीं हो सकी है। जबकि उनकी उम्र करीब 80 वर्ष बताई जा रही है। वहीं, साधु की मौत का कारण भी अब तक नहीं पता चल सका है। पुलिस मामले की पड़ताल में जुटी हुई है।

सुबह मिली लाश
झंगहा इलाके के ग्राम पंचायत लक्ष्मणपुर गांव के रहने वाले श्रवण निषाद के घर गुरुवार दीपावली के दिन शाम 7 बजे तीन साधु पहुंचे। साधु उन्हीं के घर रात्रि विश्राम किए और सुबह उनमें से एक साधु सोया रहा। जब उसे लोग उठाने की कोशिश किए तो पता लगा कि उनकी मौत हो चुकी है। इसकी जानकारी होने से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया। इस बीच किसी ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

पोस्टामार्टम रिपोर्ट से खुलेगा मौत का राज
मौके पर पहुंची पुलिस ने जब पड़ताल की तो पता लगा कि मृतक साधु का कोई अता-पता नहीं है। जबकि उनकी उम्र करीब 80 वर्ष है। वहीं, उनके साथ के साधुओं को भी उनके बारे में कोई जानकारी नहीं थी। फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले की पड़ताल में जुट गई है। इंस्पेक्टर श्याम बहादुर सिंह ने बताया कि साधु के शव की पहचान कराने की कोशिश की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण पता चल सकेगा। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...