पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गोरखपुर में CM योगी का बड़ा ऐलान:कोरोना से पति को खोने वाली महिलाओं को काम देंगे, पेंशन दिलाने के लिए कैंप लगाए जाएंगे

गोरखपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गोरखपुर में सीएम योगी आदित्यनाथ ने 133 परियोजनाओं की सौगात दी है। - Dainik Bhaskar
गोरखपुर में सीएम योगी आदित्यनाथ ने 133 परियोजनाओं की सौगात दी है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में बुधवार को बड़ा ऐलान किया। उन्होंने कहा, कोरोनाकाल में जिन महिलाओं ने अपने पति को खोया है, उनके लिए सरकार योजना बनाएगी। इसके लिए सरकार कैंप लगाएगी। उन महिलाओं के लिए पेंशन फार्म भरवाए जाएंगे। उन्हें पेंशन दिया जाएगा। साथ ही योग्यता के अनुसार काम दिया जाएगा। सीएम ने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के माध्यम से अनाथ हुए बच्चों को 4 हजार रुपए प्रति माह देने के साथ शिक्षा और अन्य सुविधाएं भी दे रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर के दो दिवसीय दौरे पर हैं। दूसरे दिन बुधवार को मुख्यमंत्री ने बाबा गंभरनाथ प्रेक्षागृह में 80 करोड़ से अधिक लागत की 133 परियोजनाओं की सौगात दी। इनमें 39.53 करोड़ के 48 कार्यों का शिलान्यास और 40.71 करोड़ की लागत से हुए 75 कार्यों का लोकार्पण हुआ है। ज्यादातर परियोजनाएं नगर निगम की हैं, जो ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र से जुड़ी हैं।

गोरखपुर में परियोजनाओं को लांच करते सीएम योगी।
गोरखपुर में परियोजनाओं को लांच करते सीएम योगी।

CM योगी के संबोधन की बड़ी बातें

  • विकास सीमित नहीं है। किसी विधानसभा, किसी क्षेत्र या किसी जनपद में। हर एक विधानसभा, गांव, क्षेत्र और जनपद में जाकर विकास होगा, यह एक उदाहरण है।
  • विकास के लिए पैसे की कमी नहीं है। उपलब्ध राशि का सही सदुपयोग हो सके। कार्ययोजना समयबद्ध तरीके से आगे बढ़े, इसके लिए क्रमबद्ध तरीके से काम हो रहा है। आत्मनिर्भर भारत की परिकल्पना को यही साकार कर सकता है।
  • दुनिया में लोग कोरोना महामारी से त्रस्त हैं। इस दौरान भी गोरखपुर और उत्तर प्रदेश में विकास की परियोजनाएं रुकी नहीं बल्कि तेजी से चलती रहीं। जीवन और जीविका को बढ़ाने का यही उदाहरण है।
  • कोरोना कमजोर जरुर हुआ है, लेकिन इसमें लापरवाही नहीं होनी चाहिए। कपड़े जैसे पहनते हैं, वैसे ही मास्क जरूर पहनें। पीएम के मंत्र ट्रेस, टेस्ट और ट्रीटमेंट में निगरानी समितियों ने अच्छा काम किया। दीवाली तक हर एक गरीब के लिए अनाज की व्यवस्था की जा रही है।
  • केंद्र व प्रदेश सरकार सभी निराश्रितों के साथ खड़ी है। किसी भी दशा में लापरवाही न करें। तीसरी लहर के लिए बच्चों के लिए गांव गांव दवाईयां पहुंच रही हैं। 12 वर्ष से कम उम्र के अभिभावकों के लिए अभिभावक टीकाकरण बूथ के तहत वैक्सीनेशन कराया जा रहा है। अपने वैक्सीनेशन में लापरवाही न करें।
  • पहला डोज ले लिया है तो निर्धारित समय में ही दूसरा डोज भी लें। इससे कोरोना कोई खास असर नहीं कर पाएगा। एक जनपद एक योजना के तहत तमाम लोगों को जोड़ा जा सकता है। सरकार सब्सिडी भी दे रही है। बैंक लोन की भी व्यवस्था कराई जा रही।
खबरें और भी हैं...