दो दिनों के दौरे पर गोरखपुर पहुंचे सीएम योगी:गोरखनाथ मंदिर में गुरु गोरक्षनाथ का लिया आशीर्वाद, बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण कर बांटेंगे राहत सामग्री

गोरखपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री यहां खजनी के उनवल में एवं चौरीचौरा के झगहा हवाई सर्वेक्षण करेंगे। - Dainik Bhaskar
मुख्यमंत्री यहां खजनी के उनवल में एवं चौरीचौरा के झगहा हवाई सर्वेक्षण करेंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को बलरामपुर से सिद्धार्थनगर और महाराजगंज के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के हवाई सर्वेक्षण के दो दिनों के दौरे पर गोरखपुर पहुंचे गए। मुख्यमंत्री का हेलीकॉप्टर से दोपहर 1 बजे एमपी पॉलीटे​क्निक ग्राउंड पर पहुंचे। इसके बाद सीएम सड़क मार्ग से गोरखनाथ मंदिर पहुंचे। यहां उन्होंने ने गुरु गोरक्षनाथ के दर्शन कर आशीर्वाद लिया और अपने गुरु ब्रह्मलीन महंत अवैद्यनाथ की समाधि पर मत्था टेका। मुख्यमंत्री बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का शुक्रवार से ही दौरा कर रहे हैं। वो यहां के खजनी के उनवल में और चौरीचौरा के झगहा क्षेत्र का हवाई सर्वेक्षण करेंगे। यहां पर भी लोगों को राहत सामग्री वितरित करेंगे।

मुख्यमंत्री के दौरे को देखते हुए डीएम विजय किरन आनंद सुबह 8:00 बजे ही आदर्श इंटर कॉलेज पहुंच गए।
मुख्यमंत्री के दौरे को देखते हुए डीएम विजय किरन आनंद सुबह 8:00 बजे ही आदर्श इंटर कॉलेज पहुंच गए।

डीएम और विधायक ने किया निरीक्षण
गोरखपुर के झंगहा इलाके में मुख्यमंत्री के दौरे को देखते हुए डीएम विजय किरन आनंद सुबह 8 बजे ही आदर्श इंटर कॉलेज पहुंच गए। यहां पर चौरीचौरा की विधायक संगीता यादव ने भी मुख्यमंत्री के दौरे से पहले निरीक्षण किया। डीएम विजय किरन आनंद ने बताया कि लोगों को राशन राहत सामग्री के साथ स्वास्थ्य संबंधी किट भी वितरित की जा रही है।

मुख्यमंत्री यहां राहत सामग्री और राशन का वितरण करेंगे। इसके साथ ही बाढ़ की समीक्षा भी करेंगे। सीएम बीआरडी मेडिकल कालेज भी निरीक्षण के लिए जा सकते हैं। मुख्यमंत्री बड़हलगंज, गोला, गगहा, सहजनवां, कैंपियरगंज और सदर तहसील के प्रभावित गांवों का हेलीकाप्टर से जाएजा लेंगे। उसके बाद खजनी के उनवल में स्थित नवल्स एकेडमी परिसर में बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के लोगों को खाद्यान्न सामग्री वितरित करेंगे।

बाढ़ प्रभावित इलाकों का करेंगे दौरा
डीएम ने बताया कि राशन वितरण के साथ लोगों के स्वास्थ्य को देखते हुए स्वास्थ्य संबंधी किट वितरित की जा रही है और उनकी समस्याओं निस्तारण किया जा रहा है। दरअसल, चौरीचौरा इलाके की राजधानी-सिलहटा और आम घाट पर बने बांध के टूट जाने से ब्रह्मपुर और झंगहा के एक दर्जन से अधिक गांव प्रभावित हुए हैं। ऐसे में 30,000 से अधिक की आबादी भी प्रभावित हुई है। यही वजह है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बलरामपुर के बाद सिद्धार्थनगर, महाराजगंज और गोरखपुर के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करने के साथ ही लोगों में राहत सामग्री वितरित करने आ रहे हैं।

रविवार को लगाएंगे जनता दरबार
सीएम, गोरखनाथ मंदिर में ही रात्रि विश्राम करने के बाद अगले दिन रविवार की सुबह जनता दर्शन में फरियादियों की समस्याएं सुनेंगे। इसके बाद वह बीआरडी मेडिकल कालेज का निरीक्षण कर सकते हैं। उसके बाद वह लखनऊ के लिए प्रस्थान कर करेंगे।

खबरें और भी हैं...