• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Gorakhpur
  • PM Narendra Modi Kushinagar Visit Updates। Will Take Stock Of The Preparations For PM Modi's Program In Kushinagar, PM Modi Will Come To Inaugurate The International Airport On 20th

PM कल करेंगे कुशीनगर एयरपोर्ट का उद्घाटन:UP का सबसे लंबा रनवे, 125 बौद्ध भिक्षुओं को लेकर श्रीलंका की पहली फ्लाइट लैंड करेगी

गोरखपुर10 महीने पहले

PM नरेंद्र मोदी कल (बुधवार) को उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में इंटरनेशनल एयरपोर्ट का उद्घाटन करेंगे। पहली फ्लाइट श्रीलंका के कोलंबो से 125 यात्रियों और बौद्ध भिक्षुओं को लेकर कुशीनगर एयरपोर्ट पर लैंड करेगी। उद्घाटन के बाद PM मोदी एक कार्यक्रम को भी संबोधित करेंगे। इसमें बौद्ध भिक्षु और श्रीलंका सरकार के मंत्री भाग लेंगे।

PM मोदी के आने से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को कुशीनगर पहुंचे। उन्होंने एयरपोर्ट के साथ बौद्ध सर्किट का भी निरीक्षण किया। केंद्र और प्रदेश सरकार के सहयोग से इस एयरपोर्ट का निर्माण 260 करोड़ रुपए की लागत से किया गया है।

कुशीनगर में मुख्यमंत्री योगी ने PM मोदी के कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लिया।
कुशीनगर में मुख्यमंत्री योगी ने PM मोदी के कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लिया।

कुशीनगर एयरपोर्ट पर बने रनवे की क्षमता 8 फ्लाइट प्रतिघंटा है, यानी चार फ्लाइट लैंड कर सकती हैं और चार फ्लाइट टेक-ऑफ कर सकती हैं। एयरपोर्ट पर 3.2 किमी लंबा और 45 मीटर चौड़ा रनवे है, जो UP का सबसे लंबा रनवे है। योगी सरकार ने 24 जून 2020 को इसे इंटरनेशनल एयरपोर्ट घोषित किया था। कुशीनगर विश्व प्रसिद्ध बौद्ध तीर्थ स्थल है। यहां भगवान गौतम बुद्ध का महापरिनिर्वाण हुआ था। गोरखपुर से यह 55 किमी की दूरी पर है।

PM के आगमन को देखते हुए कुशीनगर एयरपोर्ट पर तैयारियां चल रही हैं। नया टर्मिनल भीड़भाड़ वाले समय में 300 यात्रियों को आने-जाने की सुविधा देगा।
PM के आगमन को देखते हुए कुशीनगर एयरपोर्ट पर तैयारियां चल रही हैं। नया टर्मिनल भीड़भाड़ वाले समय में 300 यात्रियों को आने-जाने की सुविधा देगा।
बौद्ध अनुयायियों को कुशीनगर आने में सहूलियत होगी। बौद्ध सर्किट के लुंबिनी, बोधगया, सारनाथ, कुशीनगर, श्रावस्ती, राजगीर और वैशाली की यात्रा कम समय में हो सकेगी।
बौद्ध अनुयायियों को कुशीनगर आने में सहूलियत होगी। बौद्ध सर्किट के लुंबिनी, बोधगया, सारनाथ, कुशीनगर, श्रावस्ती, राजगीर और वैशाली की यात्रा कम समय में हो सकेगी।
दक्षिण एशियाई देशों के साथ कुशीनगर का सीधा जुड़ाव होगा। श्रीलंका, जापान, दक्षिण कोरिया, चीन, थाईलैंड, वियतनाम से आने वाले पर्यटकों का कुशीनगर पहुंचना आसान होगा।
दक्षिण एशियाई देशों के साथ कुशीनगर का सीधा जुड़ाव होगा। श्रीलंका, जापान, दक्षिण कोरिया, चीन, थाईलैंड, वियतनाम से आने वाले पर्यटकों का कुशीनगर पहुंचना आसान होगा।
कुशीनगर के आसपास 10-15 जिले हैं। ऐसे में दो करोड़ से अधिक आबादी को इंटरनेशनल एयरपोर्ट की सुविधा मिल सकेगी।
कुशीनगर के आसपास 10-15 जिले हैं। ऐसे में दो करोड़ से अधिक आबादी को इंटरनेशनल एयरपोर्ट की सुविधा मिल सकेगी।
खबरें और भी हैं...