पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जब मौलवी ने योगी से मांगा दो मिनट का वक्त:गोरखनाथ मंदिर में दरबार लगाने पहुंचे थे CM, बुजुर्ग मौलवी ने आवाज देकर रोका, कहा- आप दो मिनट अकेले में समय दें, कुछ गोपनीय बात करनी है

गोरखपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री योगी गोरखपुर के दौरे पर हैं। यहां उन्होंने जनता दरबार में लोगों की समस्याएं सुनीं। इसी दौरान मौलवी से बात करते हुए योगी। - Dainik Bhaskar
मुख्यमंत्री योगी गोरखपुर के दौरे पर हैं। यहां उन्होंने जनता दरबार में लोगों की समस्याएं सुनीं। इसी दौरान मौलवी से बात करते हुए योगी।

गोरक्षनाथ मंदिर में तीन माह बाद गुरुवार को जनता दरबार लगा। कोरोना के चलते मार्च माह में जनता दरबार को बंद कर दिया गया था। मुख्यमंत्री योगी फरियादियों से मिलने जा रहे थे। तभी एक बुजुर्ग मौलवी ने आवाज देकर उन्हें रोक लिया। सीएम ने मौलवी से उनका हाल जाना। इसके बाद मौलवी ने कहा- 'आप दो मिनट मुझे अकेले में समय दें। मुझे आपसे कुछ गोपनीय बात करनी है।'

बुजुर्ग की यह बात सुनकर वहां मौजूद हर कोई हैरान हो गया। इसके बाद सीएम योगी ने कहा कि उनको जो कुछ भी कहना ​है, कृपया लिखकर दें। वह देख लेंगे। इसके बाद मौलवी वहां से चले गए। हालांकि वह कहां के थे, उनका क्या नाम है और उन्हें ऐसी क्या गोपनीय बात सीएम योगी से करनी थी, फिलहाल यह पता नहीं चल सका।

पहले दिन 150 फरियादी दरबार में पहुंचे

गुरुवार को बिना किसी पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के कोरोना संक्रमण की रफ्तार कम होने के बाद गोरखपुर मंदिर में पहली बार जनता दरबार का कार्यक्रम आयोजित हुआ। हालांकि करीब तीन महीने बाद लगे सीएम के जनता दरबार की पूर्व जानकारी नहीं होने से अन्य जिलों से आने वाले फरियादियों की संख्या कम ही रहीं।

गोरखपुर व आसपास के इलाकों से करीब 150 फरियादी मंदिर पहुंचे। मुख्यमंत्री एक-एक कर लोगों से मिलते रहे। सबकी समस्याएं सुनी और हर समस्या के समाधान का भरोसा दिलाया। इस दौरान कमिश्नर, एडीजी, डीएम, एसएसपी सहित अन्य पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे।

जनता दरबार में समस्याएं सुनते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।
जनता दरबार में समस्याएं सुनते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

सुबह से ही लग गई लाइन
हर बार की तरह इस बार अधिकतर मामले कानून और जमीन से जुड़े हुए थे। फरियादी अपनी फरियाद लेकर सुबह 4 बजे से ही लाइन में लग गए थे। इसमें बुजुर्ग, युवा, महिलाएं और बच्चे भी शामिल थे। फरियादियों में कई लोगों की मुलाकात सीएम योगी से नहीं हो पाई। इसलिए वे जरूर थोड़े निराश दिखे। हालांकि सभी लोगों के शिकायत पत्र ले लिए गए हैं।

सीएम ने पूछा लोगों का हाल-चाल
इसके पूर्व सीएम ने मंदिर में गोशाला में भ्रमण किया। यहां उन्होंने गायों को गुड़ व चना खिलाया, साथ ही उन्हें दुलार भी किया। इसके बाद सीएम योगी ने मंदिर का भ्रमण किया। इस दौरान मंदिर परिसर में टहलने आए लोगों से भी सीएम ने उनका हाल-चाल जाना। उन्होंने कहा कि कोरोना से अब डरने की जरूरत नहीं है, बल्कि सतर्क रहना अति आवश्यक है। उन्होंने लोगों से वैक्सीन लगवाने के लिए अपील भी की।

खबरें और भी हैं...