पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Gorakhpur
  • CM Yogi Adityanath Gorakhpur Visit: Yogi Adityanath Met Children Orphaned In Corona Pandemic Says The Government Will Take Up The Responsibility Of Their Maintenance

बच्चों के बीच भावुक हुए योगी:कोरोना महामारी में अनाथ हुए बच्चों से मिले सीएम, बांटा दर्द; बोले- सरकार उठाएगी उनके भरण-पोषण का जिम्मा

गोरखपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीएम योगी आदित्यनाथ ने दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर में कोविड काल में अनाथ हुए बच्चों से की मुलाकात। - Dainik Bhaskar
सीएम योगी आदित्यनाथ ने दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर में कोविड काल में अनाथ हुए बच्चों से की मुलाकात।

यूं तो CM योगी का हठयोग, व तल्ख़ तेवर अक्सर सुर्खियों में रहता है। लेकिन सीएम योगी बच्चों को लेकर बहुत संवेदनशील है। बच्चों के बीच वे 'टॉफी वाले बाबा' के नाम से भी जाने जाते हैं। शुक्रवार को भी योगी मीडिया से मुखातिब होने के बाद कोरोना काल में माता-पिता को खो चुके बच्चों से मिलने पहुंचे। उन्होंने अफसरों को हिदायत दी कि बच्चों को किसी तरह की कमी न हो।

बच्चों से मिल भावुक हो गए योगी

शुक्रवार सुबह गोरखनाथ मंदिर में जब कोरोना से माता पिता दोनों को खोने वाले जिले के पांच बच्चों से सीएम योगी मिले तो उन्हें देख उनकी आंखें नम हो गईं। माहौल बेहद भावुक था। एक एक कर उन्होंने बच्चों को दुलारते हुए उनके साथ आए लीगल गार्जियन से बात की। अभिभावक की तरह सबको समझाया, खूब पढ़ने लिखने को प्रेरित किया। कहा कि तनिक भी घबराने की जरूरत नहीं है। परवरिश से लेकर पढ़ाई तक सारा खर्च सरकार उठाएगी। सीएम योगी ने इसके बाद जेल रोड पर स्थित एक बाल आश्रय गृह भी पहुंचे। बेसहारा बच्चों से उन्होंने कहा- माता पिता का न रहना बेहद दुखदायी है लेकिन चिंता मत करो, मैं हूं।

कोरोना में माता-पिता को खो चुके बच्चों से बात करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। योगी ने अधिकारियों से एक-एक बच्चे की पूरी जानकारी भी ली।
कोरोना में माता-पिता को खो चुके बच्चों से बात करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। योगी ने अधिकारियों से एक-एक बच्चे की पूरी जानकारी भी ली।

बच्चों ने योगी को सुनाया महामृत्युंजय मंत्र

शुक्रवार को बलिया और वाराणसी के दौरे पर रवाना होने से पहले मुख्यमंत्री जेल रोड स्थित एशियन सहयोगी संस्था द्वारा संचालित बाल आश्रय गृह पर भी गए। बच्चों ने जब सीएम योगी को गायत्री मंत्र व महामृत्युंजय मंत्र सुनाया तो वह प्रसन्न हो गए। एक मासूम बच्ची ने मुख्यमंत्री को अंग्रेजी का अल्फाबेट सुनाया। बच्चों ने उन्हें योग के बारे में भी बताया। अभिभावक की भूमिका में यहां नजर आ रहे मुख्यमंत्री ने सभी बच्चों को वस्त्र व उपहार प्रदान किया। सीएम ने आश्रय गृह की संचालिका उषा दास से कहा कि बच्चों की परवरिश व शिक्षा में कोई परेशानी नहीं आनी चाहिए, सरकार हर संभव मदद देगी। संचालिका ने बताया कि यहां इस समय कुल 40 बच्चेहैं। 22 बच्चे शून्य से लेकर 2 साल तक के हैं, बाकी 18 बच्चे 2 से लेकर 6 वर्ष के हैं।

अनाथ आश्रम के बच्चों ने यहां मुख्यमंत्री को महामृत्युंज मंत्र भी सुनाए। योगी ने आश्रम की संचालिका से कहा कि इनकी परवरिश में किसी तरह की कोई कमी न हो।
अनाथ आश्रम के बच्चों ने यहां मुख्यमंत्री को महामृत्युंज मंत्र भी सुनाए। योगी ने आश्रम की संचालिका से कहा कि इनकी परवरिश में किसी तरह की कोई कमी न हो।

बच्चों को हेलीकाप्टर में भी बिठाया था योगी ने

बीते दिनों यहां पिपराइच इलाके में अपने दौरे पर गए सीएम योगी बच्चों से मुखातिब होने लगे। बच्चों ने सीएम का हेलिकाप्टर देखा तो उसमें बैठने की जिद करने लगे। सुरक्षा अधिकारियों ने इससे इंकार कर दिया, लेकिन तभी सीएम योगी ने उन्हें निर्देशित किया कि बच्चों को उनके हेलीकाप्टर में बैठाया जाए। फिर क्या था बच्चों की हेलिकाप्टर में बैठने की इच्छा योगी ने पूरी कर दी।

कुछ दिन पहले सीएम योगी पिपराइच गांव के दौरे पर गए थे। वहां बच्चों ने हेलिकाप्टर में बैठने की जिद की तो योगी ने बच्चों को बारी-बारी से हेलिकाप्टर की सैर करवाई थी।
कुछ दिन पहले सीएम योगी पिपराइच गांव के दौरे पर गए थे। वहां बच्चों ने हेलिकाप्टर में बैठने की जिद की तो योगी ने बच्चों को बारी-बारी से हेलिकाप्टर की सैर करवाई थी।