मौदहा में पुलिस के पहरे में बांटी जा रही खाद:सुबह से किसान लग जाते हैं लाइन पर, खाद की कमी के कारण आ रही दिक्कत

मौदहा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हमीरपुर ज़िले के मौदहा कस्बा के सरकारी खाद वितरण केंद्रों में अनियंत्रित भीड़ होने के कारण स्थानीय पुलिस ने मौके पर पहुंच कर खाद वितरण को व्यवस्थित किया है। इस वर्ष बारिश देर तक होने के कारण रवि की फसल की बुआई का समय काफी पिछड़ गया है। मौसम साफ होते ही चौतरफा जुताई के तत्काल बाद बुआई का काम शुरू हो जायेगा।

ऐसे में पूरे क्षेत्र में लगभग एक साथ बुआई होने के आसार नजर आ रहे हैं। इसी के चलते क्षेत्रीय किसान खाद का स्टाक करने में लगा हुआ है, ताकि बुआई में खाद की कमी आड़े न आए। इसी के मद्देनजर खाद वितरण केंद्रों में किसानों की भारी भीड़ उमड़ रही है।

पीसीएफ में लगी लाइन।
पीसीएफ में लगी लाइन।

वितरण केंद्रों में अफरा-तफरी का माहौल
अनियंत्रित भीड़ के कारण वितरण केंद्रों में अफरातफरी का माहौल बन गया है। प्रत्येक दिन वितरण के दौरान अफरातफरी की सूचना मिलने पर इन खाद वितरण केन्द्रों में पुलिस बल तैनात कर दिया जाता है और पुलिस की देखरेख में खाद का वितरण किया गया है। मुख्य रूप से गल्ला मंडी स्थित पीसीएफ गोदाम एवं मलीकुंआ के नजदीक क्रयविक्रय सहकारी संस्था में किसानों की भारी भीड़ देखने को मिली है।

प्रति किसान अधिकतम पांच बोरी खाद देने की योजना
पीसीएफ प्रभारी सुरेन्द्र कुमार ने बताया है कि उनके गोदाम में दो ट्रक डीएपी खाद आई है, जिसमें प्रति किसान अधिकतम पांच बोरी खाद देने की योजना बनाई गई है। कुछ लोगों के द्वारा जल्द बाजी और मानक से अधिक खाद देने का दबाव बनाने से स्थिति गड़बड़ हो जाती है।

खबरें और भी हैं...