हमीरपुर में विदेश भेजने के नाम पर धोखाधड़ी:2019 में दो युवकों से लिए थे 2,30,000 रुपए, पैसे वापस मांगने पर दी जान से मारने की धमकी

हमीरपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हमीरपुर में दो युवकों के साथ विदेश भेजने के नाम पर ठगी। - Dainik Bhaskar
हमीरपुर में दो युवकों के साथ विदेश भेजने के नाम पर ठगी।

हमीरपुर में बेरोजगारी से जूझ रहे युवाओं को विदेश में अच्छी नौकरी का लालच देकर उनके साथ ठगी करने का धंधा एक बार फिर फलने-फूलने लगा है। कबूतर बाज ने 2019 में दो युवकों से 2,30,000 रुपए लिए थे। इसके बाद लॉकडाउन का बहाना बनाकर दोनों को टरकाता रहा। बाद में पैसे वापस मांगने पर दोनों को जान से मारने की धमकी दी।

लॉकडाउन की बात कहकर नहीं भेजा था विदेश

जिले के मौदहा कोतवाली क्षेत्र कस्बा के रागौल निवासी अब्दुल मजीद व मुहम्मद अनवार ने सीओ को शिकायती पत्र दिया है। बताया है कि कस्बा के हैदरगंज निवासी शैफुल ने 2019 में अब्दुल मजीद के बेटे फिरोज को नौकरी दिलाने के लिए 170000 रुपए व अब्दुल रशीद के बेटे अनवार को नौकरी दिलाने के नाम पर 50 हजार रुपए लिए थे। पैसे देने के बाद भी जब काफी समय बीत गया और कबूतर बाज शैफुल ने इन दोनों युवकों को विदेश नहीं भेजा। तो इन्हें शक हुआ और इन्होंने अपने रुपए लौटने को कहा। जिस पर शैफुल ने लॉकडाउन होने की बात कहते हुए अपनी मजबूरी जाहिर की तथा पैसा नहीं लौटाए। धीरे-धीरे करके समय बीतता गया और लगभग दो साल के बाद दोनों युवाओं ने अपने रुपए मांगे। तो शैफुल ने गाली गलौज व जान से मारने की धमकी देते हुए भागा दिया।

हर साल कई युवा बनते हैं जालसाज का शिकार

इन युवाओं का आरोप है कि शैफुल के ऐसे कामों के चलते पहले भी कई युवाओं को विदेश भेजने के नाम पर लाखों रुपए की ठगी कर चुका है। और कई बार ऐसे मामलों में कोर्ट कचहरी तक विवाद पहुंच चुका है। लेकिन वह भोले भाले युवाओं के साथ ठगी करने से बाज नहीं आया है।और हर साल दर्जनों युवा उसके चुंगुल में फंस कर अपनी जमीन जायदाद तथा जेवरात बेंचकर भी विदेश में नौकरी के नाम पर पैसा देते हैं। शिकायत कर्ताओं का कहना है कि शैफुल के खिलाफ जब कोई भी पीड़ित कोतवाली पुलिस में शिकायत करने पहुंचता है। तो आरोपी के रसूख के चलते पुलिस द्वारा पीड़ितों को वहाँ से चलता कर दिया जाता है। अथवा समझौते का दबाव बनाया जाता है। शिकायत कर्ता दोनों युवकों ने आरोपी कबूतर बाज से पैसा वापस दिलाने तथा कानूनी कार्यवाही करने की मांग की है। वहीं इस सम्बन्ध में सीओ रवि प्रकाश का कहना है कि मामले की जांच करा ली जाएगी। जांच के बाद उचित कार्यवाही की जाएगी।