हमीरपुर में अंतरराज्यीय गिरोह का खुलासा:नौकरी दिलाने के नाम पर की करोड़ों की ठगी, ढेरों लैपटॉप-मोबाइल, लग्जरी गाड़ी बरामद

हमीरपुर2 महीने पहले
पुलिस ने अंतरराज्यीय गिरोह के 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

हमीरपुर पुलिस ने एक अंतरराज्यीय गिरोह के तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपी सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर 15 करोड़ रुपए से अधिक की ठगी कर चुके थे। पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों के पास से ढेरों दस्तावेज, मोबाइल, लैपटॉप सहित आईडी के साथ ही एक लग्जरी कार भी बरामद की है।

हमीरपुर पुलिस को अंतरराज्यीय गिरोह को पकड़ने में तब कामयाबी मिली है। मौदहा कोतवाली क्षेत्र में मदारपुर के रहने वाले शाहबाज खान ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि उसे फॉरेस्ट विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर चंदौली के रहने वाले इंतजार खान और उसके गिरोह ने लगभग तीन लाख रुपए ठग लिए हैं।

हमीरपुर में गिरफ्तार आरोपियों के पास से तमाम दस्तावेज बरामद हुए हैं।
हमीरपुर में गिरफ्तार आरोपियों के पास से तमाम दस्तावेज बरामद हुए हैं।

तीन आरोपी मौके से फरार
पुलिस ने जब मामले की जांच की तो इस गैंग के 6 आरोपी चिह्नित हुए, जिन्होंने यूपी के कई जिलों सहित उत्तराखंड के दर्जनों लोगों को ठगी का शिकार बनाया था। पुलिस ने संगठित अंतरराज्यीय गिरोह की घेराबंदी करते हुए जब दबिश दी तो तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया, जबकि 3 आरोपी मौके से फरार हो गए।

पुलिस ने अंतरराज्यीय गिरोह के 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर कई घटनाओं का खुलासा किया है।
पुलिस ने अंतरराज्यीय गिरोह के 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर कई घटनाओं का खुलासा किया है।

कई दस्तावेज बरामद
आरोपियों में अंकित त्रिपाठी जो हरदोई का रहने वाला है, सूरज कुमार जो मुरादाबाद का है और इंतजार खान जो चंदौली का रहने वाला है उसे गिरफ्तार किया है। पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों के पास से ढेरों लैपटॉप, मोबाइल, बैंक पासबुक, एटीएम, आधार कार्ड, पैन कार्ड सहित तमाम मार्कशीट और दस्तावेज बरामद किए हैं। पुलिस ने आरोपियों के पास से एक एक्सयूवी कार भी बरामद की है, जिस पर आरोपियों ने भाजपा का झंडा लगाया था।

खबरें और भी हैं...