ग्रामीण आजीविका मिशन के कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन:हमीरपुर में इंक्रीमेंट और एरियर दिलाने की मांग, 12 सितंबर से चल रहा है कार्य बहिष्कार

हमीरपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हमीरपुर में ग्रामीण आजीविका मिशन के कर्मचारियों ने विकास भवन में जोरदार प्रदर्शन किया है। - Dainik Bhaskar
हमीरपुर में ग्रामीण आजीविका मिशन के कर्मचारियों ने विकास भवन में जोरदार प्रदर्शन किया है।

हमीरपुर में ग्रामीण आजीविका मिशन के कर्मचारियों ने विकास भवन में जोरदार प्रदर्शन किया है। कर्मचारियों ने जिला विकास अधिकारी को ज्ञापन सौंपते हुए बताया कि आश्वासन के बाद भी इंक्रीमेंट और एरियर नहीं मिला है। इसको लेकर 12 सितम्बर से उनका अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार चल रहा है।

ग्रामीण आजीविका मिशन में 6.5 लाख स्वयं सहायता समूह काम कर रहे हैं, जिसमें लगभग 85 लाख ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं काम कर रही हैं। लेकिन बीते सात साल से स्वीकृत मॉडल एचआर पॉलिसी का लाभ मिशन स्टाफ को नहीं मिल रहा है। ऐसे में महंगाई के इस दौर में कर्मचारियों को बच्चों की देखरेख करना और पढ़ाई सहित घर का खर्च चलाना मुश्किल हो रहा है।

हमीरपुर में ग्रामीण आजीविका मिशन के कर्मचारियों ने विकास भवन में जोरदार प्रदर्शन किया है।
हमीरपुर में ग्रामीण आजीविका मिशन के कर्मचारियों ने विकास भवन में जोरदार प्रदर्शन किया है।

9 सूत्रीय ज्ञापन सौंपा
ऐसे में आज जिले भर की सैकड़ों महिला कर्मचारियों ने विकास भवन में जोरदार प्रदर्शन किया है और 9 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन जिला विकास अधिकारी को सौंपा है। ग्रामीण आजीविका मिशन के कर्मचारियों ने बताया कि वह अल्प वेतन भोगी कर्मचारी हैं, ऐसे में उनका स्थानान्तरण स्थाई जनपद से दूसरे जनपदों में कर दिया गया है। इसे निरस्त कर उन्हें स्थाई जनपद में समायोजित किया जाए।

मानदेय 18 हजार करने की मांग
मिशन की शुरुआत में समस्त कर्मचारी विभागीय संविदा पर कार्यरत थे, लेकिन वर्तमान में आउटसोर्सिंग व्यवस्था पर हैं। इसे समाप्त कर विभागीय संविदा पर नियुक्त किया जाए। कर्मचारियों ने यह भी बताया की कंप्यूटर ऑपरेटर का मानदेय 12 हजार है, जिससे परिवार चलाना मुश्किल हो रहा है। इसे बढ़ाकर 18 हजार किया जाए। साथ ही इंक्रीमेंट और एरियर दिया जाए।

खबरें और भी हैं...