हमीरपुर में धीमा चल रहा ब्लड सपरेटर यूनिट का काम:डेंगू मरीजों को प्लेटलेट्स के लिए जाना होगा कानपुर और झांसी

हमीरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हमीरपुर का जिला अस्पताल। - Dainik Bhaskar
हमीरपुर का जिला अस्पताल।

हमीरपुर जिला अस्पताल में ब्लड सपरेटर यूनिट का निर्माण कार्य बहुत ही धीमा चल रहा है। जनपद में प्लेटलेट्स निकालने का कोई इंतजाम नहीं है। इसके कारण डेंगू मरीजों के प्लेटलेट्स घटते ही कानपुर की दौड़ लगानी पड़ रही है। हालांकि, स्वास्थ्य विभाग डेंगू और बुखार की जांच के पर्याप्त इंतजामों के दावे कर रह है।

सितंबर, अक्टूबर के महीने में हर साल डेंगू और बुखार के मरीजों की संख्या में तेजी आती है। पिछले पंद्रह दिनों में अत्यधिक बारिश की वजह से जगह-जगह जलभराव की समस्या उत्पन्न हुई है। इसी के साथ डेंगू के मरीजों की संख्या भी बढ़ी है। जिला अस्पताल में ब्लड सपरेटर यूनिट की स्थापना का कार्य चल रहा है।

हमीरपुर जिला अस्पताल।
हमीरपुर जिला अस्पताल।

सिविल का काम हो चुका है पूरा

सिविल का काम हो चुका है, कुछ मशीनें भी आई हैं, लेकिन यूनिट अभी पूरी तरह से तैयार नहीं है। यानी किसी गंभीर डेंगू मरीज को प्लेटलेट्स की आवश्यकता पड़ती है तो ब्लड बैंक में पर्याप्त ब्लड होने के बावजूद उसे प्लेटलेट्स नहीं मिल पाएगी। ऐसे मरीज की जान बचाने को लेकर उसे कानपुर ले जाना ही एकमात्र विकल्प होगा।

डॉक्टर बोले-यूनिट को जल्द किया जाएगा चालू

डॉ.आरएस प्रजापति, प्रभारी सीएमएस जिला अस्पताल ने बताया की ब्लड सपरेटर यूनिट का काम अभी चल रहा है। कुछ मशीनें आ भी गई हैं। प्रयास किया जा रहा है कि इसे जल्द से जल्द चालू कर दिया जाए। फिलहाल डेंगू के गंभीर मरीज को अगर प्लेटलेट्स की आवश्यकता पड़ती है तो उसे इसके लिए कानपुर या फिर झांसी मेडिकल कॉलेज ही जाना होगा।

खबरें और भी हैं...