बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का 3 जिलों में रियलिटी चेक:अभी नहीं हो पाएगा एक्सप्रेस सफर, कहीं पिलर बन रहे तो कहीं पुल

हमीरपुर/ इटावा/औरैया4 महीने पहले

बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का पीएम मोदी ने शनिवार को उद्घाटन कर दिया है। 296 किमी. इस एक्सप्रेस-वे को बनाने के लिए 36 महीने का समय तय किया गया था। इसे 28 महीनों में ही शुरू कर दिया गया। हालांकि, अभी इस पर बिना रुकावट के सफर करना आसान नहीं है। वजह अभी एक्सप्रेस-वे पर कई जगह काम चल रहा है। कहीं पिलर बन रहे हैं तो कहीं पुल तैयार किए जा रहे हैं।

एक्सप्रेस-वे पर पड़ने वाले 3 शहर- हमीरपुर, औरैया और इटावा में भास्कर ने इसका रियलिटी चेक किया।

आइए अब जानते हैं कि कहां कितना काम अधूरा है...

1-इटावा में पड़ने वाले 15 किलोमीटर एक्सप्रेस-वे के बीच दो बड़े निर्माणाधीन पुल पर अभी लेंटर भी नहीं पड़ा है। डिवाइडर भी पूरी तरीके से नहीं लगाए गए हैं। कई जगहों पर अभी काम बचा है।

यह तस्वीर इटावा की है। आगरा से चित्रकूट की ओर जाने वाले मार्ग पर निर्माण कार्य चल रहा है।
यह तस्वीर इटावा की है। आगरा से चित्रकूट की ओर जाने वाले मार्ग पर निर्माण कार्य चल रहा है।
पिलर नंबर 286 के पास पुल के अंत में सड़क तैयार करने के लिए मिट्टी की लेयर बनाई गई है।
पिलर नंबर 286 के पास पुल के अंत में सड़क तैयार करने के लिए मिट्टी की लेयर बनाई गई है।
286 पर ही एक ओर सटरिंग दिख रही है। इस पर फिलहाल आवागमन नहीं हो रहा है।
286 पर ही एक ओर सटरिंग दिख रही है। इस पर फिलहाल आवागमन नहीं हो रहा है।

2- हमीरपुरः टीम एनएच 34 एंट्री पॉइंट से राठ एग्जिट प्वाइंट तक का दौरा किया। कई जगह डिवाइडर कम्प्लीट नहीं मिला। वहीं, कुछ जगहों पर रंग-रोगन का काम भी अधूरा था। हालांकि काम चल रहा है।

नेशनल हाईवे-34 से गुजर रहे एक्सप्रेस-वे पर लाइटें भी पूरी तरह से नहीं लगाई गई हैं।
नेशनल हाईवे-34 से गुजर रहे एक्सप्रेस-वे पर लाइटें भी पूरी तरह से नहीं लगाई गई हैं।
एक्सप्रेस-वे पर बना डिवाइडर अभी कम्प्लीट नहीं है। यह तस्वीर हमीरपुर-महोबा की सीमा खन्ना गांव के पास की है।
एक्सप्रेस-वे पर बना डिवाइडर अभी कम्प्लीट नहीं है। यह तस्वीर हमीरपुर-महोबा की सीमा खन्ना गांव के पास की है।
हमीरपुर महोबा की सीमा पर बने एक्सप्रेस-वे पर डिवाइडर कम्प्लीट नहीं है। इसी प्वाइंट से हमीरपुर या महोबा के लोग आ-जा सकेंगे।
हमीरपुर महोबा की सीमा पर बने एक्सप्रेस-वे पर डिवाइडर कम्प्लीट नहीं है। इसी प्वाइंट से हमीरपुर या महोबा के लोग आ-जा सकेंगे।
NH-34 से एक्सप्रेस-वे को जोड़ने वाली सड़क अभी कच्ची है। इसका डामरीकरण नहीं हुआ है। टोल प्लाजा भी अधूरा पड़ा है।
NH-34 से एक्सप्रेस-वे को जोड़ने वाली सड़क अभी कच्ची है। इसका डामरीकरण नहीं हुआ है। टोल प्लाजा भी अधूरा पड़ा है।

3- औरैयाः टीम ने मिहोली गांव के आस-पास का दौरा किया। यहां एक जगह पर पुल का निर्माण कार्य अधूरा मिला। रेलिंग भी अधूरी मिली।

यह फोटो औरैया के मिहोली गांव की है। यहां पुल के निर्माण के लिए सरियों का जाल बिछाया जा रहा है।
यह फोटो औरैया के मिहोली गांव की है। यहां पुल के निर्माण के लिए सरियों का जाल बिछाया जा रहा है।
यह तस्वीर मिहोली गांव से दो किलो मीटर दूर की है। यहां दोनों तरफ की रेलिंग बाकी है।
यह तस्वीर मिहोली गांव से दो किलो मीटर दूर की है। यहां दोनों तरफ की रेलिंग बाकी है।

अखिलेश यादव का ट्वीट, लिखा- हड़बड़ी में किया गया उद्घाटन
PM मोदी के UP आने से पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एक वीडियो ट्वीट किया है। इसमें आधी अधूरी सड़क दिख रही हैं। उन्होंने लिखा, 'आधे-अधूरे बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन की हड़बड़ी बताती है कि इसका डिजाइन भी ऐसे ही चलताऊ बना है, तभी डिफेंस कॉरिडोर के पास होने के बाद भी यहां भाजपा सरकार, सपा काल में बने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे जैसी हवाई पट्टी न बना पाई। इसे चित्रकूट तक विकसित न करना दूरदृष्टि की कमी है।'

खबरें और भी हैं...