भूतपूर्व सैनिकों ने किया शस्त्र पूजन:हमीरपुर में विजयादशमी पर कार्यक्रम का आयोजन, भूतपूर्व सैनिकों ने बताया शस्त्रों के सम्मान का महत्व

हमीरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भूतपूर्व सैनिकों ने किया शस्त्र पूजन। - Dainik Bhaskar
भूतपूर्व सैनिकों ने किया शस्त्र पूजन।

हमीरपुर जिले में विजयादशमी के अवसर पर आज वीर भूमि भूतपूर्व सैनिक संगठन ने मौदहा कस्बे में शस्त्र पूजन का कार्यक्रम आयोजित किया। गल्ला मंडी समिति में आयोजित शस्त्र पूजन कार्यक्रम में भूतपूर्व सैनिकों ने हवन-पूजन कर विधिवत प्रसाद वितरण किया।

आदि काल से ही शस्त्रों का महत्व

इस कार्यक्रम के बारे में संगठन के अध्यक्ष राजबहादुर सिंह ने बताया कि आदि काल से ही शस्त्रों का महत्व है। हमारे बुजुर्गों और वीर महापुरुषों ने हमेशा से ही शस्त्रों की सुरक्षा और रख-रखाव के साथ ही इनका अत्यंत सम्मान किया है। उनका मानना रहा है कि शस्त्रों द्वारा ही जीवन, समाज और राष्ट्र की सुरक्षा होती है। अतः हमें शस्त्रों की पूजा करना चाहिए।

भारत माता की सुरक्षा के लिए शस्त्रों का सम्मान जरूरी

इसके साथ ही संगठन के अध्यक्ष ने कहा कि भारत माता की सुरक्षा के लिए शस्त्रों का सम्मान जरूरी है, जबकि धार्मिक जानकारी रखने वाले लोगों ने बतया कि राम और रावण के बीच हुए युद्ध में जब राम चन्द्र जी को विजयश्री मिली तो उसके पीछे शस्त्रों का महत्वपूर्ण योगदान था। इसलिए तब से ही शस्त्रों की पूजा होती है। इस कार्यक्रम में तमाम भूतपूर्व सैनिक उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...