पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हमीरपुर में किसान महापंचायत का आयोजन:बांदा से रवाना हुए राकेश टिकैत, कहा- किसानों की हालत किसी से छिपी नहीं है, यह आंदोलन देश के लिए है

हमीरपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हमीरपुर में किसान महापंचायत का आयोजन। - Dainik Bhaskar
हमीरपुर में किसान महापंचायत का आयोजन।

हमीरपुर की गल्ला मंडी में रविवार को भारतीय किसान यूनियन ने किसान महापंचायत का आयोजन किया है। महापंचायत में शामिल होने के लिए भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश टिकैत रविवार सुबह बांदा पहुंचे। वहां थोड़ी देर रुकने के बाद वो हमीरपुर के निकल गए। बांदा में किसानों की समस्याओं को लेकर उन्होंने कहा कि हम किसान हारने वाले नहीं हैं। आज हमीरपुर में होने वाली महापंचायत में हम आगे की रणनीति तय करेंगे। राकेश टिकैत के साथ महापंचायत में राष्ट्रीय स्तर के तमाम किसान नेता शामिल होंगे। मौके पर प्रशासन ने पुलिस बल तैनात कर दिया है। पूरे परिसर सहित सड़कों को छावनी में तब्दील कर दिया है। स्थानीय किसानों भी मौके पर पहुंचकर तैयारियों का जायजा ले रहे हैं।

किसान कर रहा है आत्महत्या

हमीरपुर की गल्ला मंडी में राकेश टिकैट जनसभा करेंगे। जनसभा में शामिल होने के लिए वो उत्तर प्रदेश संपर्क क्रांति एक्सप्रेस से बांदा पहुंचे। बांदा से सैकड़ों किसानों के साथ वो हमीरपुर के लिए रवाना हो गए। बांदा में राकेश टिकैत ने कहा कि बुंदेलखंड का किसान आत्महत्या कर रहा है। बुंदेलखंड के किसानों की हालत किसी से छिपी नहीं है। किसान संगठन की सरकार से जो मांग है, उसमें पूरे देश के किसानों का हित है।

निजीकरण से बढ़ेगी बेरोजगारी

संसद में पारित किसान बिल के तीन बिंदुओं को हटाया जाए। एमएसपी रेट की गारंटी तय की जाए। सरकार जिस तरह से तमाम सरकारी संस्थाओं का निजीकरण कर रही है, उसको रोका जाए। निजीकरण करने से बेरोजगारी बढ़ेगी। बुंदेलखंड का युवा पहले से ही बेरोजगार है। यहां का युवा दिल्ली और सूरत जाकर कमाने को मजबूर है। सरकार निजी करण नहीं रुकेगी तो बेरोजगारी और ज्यादा बढ़ेगी। बड़ा व्यापारी किसान से सस्ते दामों पर माल लेकर एमएसपी पर बेचता है। यहां के किसान को लगातार ठगा जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह आंदोलन किसी प्रदेश के लिए नहीं है बल्कि पूरे देश के किसानों के लिए है। जब तक उनकी मांगे पूरी नहीं होती वह इसी तरह देश के हर कोने में घूम-घूम कर किसानों और युवाओं को जागरूक करते रहेंगे।

खबरें और भी हैं...