हमीरपुर में राष्ट्रीय पोषण माह का आयोजन:मूंगफली के फायदों के बारे में बताया गया, गरीबों का बादाम बताया

हमीरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हमीरपुर में कृषि और प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय बांदा द्वारा नारी परियोजना के अंतर्गत राष्ट्रीय पोषण माह के अवसर पर प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन विकासखण्ड सुमेरपुर के पचखुरा खुर्द गांव में किया गया।

इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य कम लागत में पौष्टिक आहार तैयार कर परिवार को स्वस्थ रखना था। गृह विज्ञान विशेषज्ञ डॉ.फूल कुमारी ने मूंगफली की पौष्टिकता के बारे में बताया। उन्होंने कहा, यह आम लोगों का बादाम है।

चटनी बनाने का दिया प्रशिक्षण

मूंगफली में स्वाद के साथ-साथ कई प्रकार से स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाने संबंधी गुण भी होते हैं। मूंगफली में विटामिन, मिनरल्स, न्यूट्रिएंट्स और एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं। मूंगफली में पर्याप्त मात्रा में आयरन, कैल्शियम और जिंक पाया जाता है।

इसे खाने से ताकत भी मिलती है। मूंगफली विटामिन ई और विटामिन बी 6 से भरपूर होता है। इस अवसर पर मूंगफली लड्डू एवं मूंगफली चटनी बनाने का प्रशिक्षण भी दिया गया।

गांव की महिलाएं रहीं मौजूद

सभी महिलाओं और बच्चों ने चटनी को स्वादिष्ट बताते हुए तारीफ की। कार्यक्रम के दौरान महिलाओं को करी पत्ता का पौधा भी दिया गया। जिससे ग्रामीण क्षेत्रों में पौष्टिक भोजन के साथ-साथ बीमारियों को दूर किया जा सके। कुपोषण जैसी भयंकर महामारी से निजात मिल सके। करी पत्ता में विटामिन ए और आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है।

इस कार्यक्रम में मौजूद गांव की रीता, राधा, अर्चना, रामबाई, रामरती, सुदामा, रानी, संगीता, सुधा, महक आदि का कहना था कि मूंगफली गुणों से भरपूर है। मगर जानकारी के अभाव में लोग इसका लाभ नहीं ले पाते हैं। इस कार्यशाला से उन्हें मूंगफली के गुणों के बारे में जानकारी मिली है।