सरीला तहसील में दो युवकों ने लेखपाल से को पीटा:फोन करके बुलाया था घर, न आने पर तहसील पहुंचकर काटा बवाल, जान से मारने की दी धमकी

सरीला5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लेखपाल की पिटाई के बाद घटनास्थल पर मौजूद लोग - Dainik Bhaskar
लेखपाल की पिटाई के बाद घटनास्थल पर मौजूद लोग

सरीला तहसील में शनिवार को दो युवकों जमकर दबंगई की। लेखपाल के घर न आने से नाराज युवकों ने तहसील परिसर पहुंचकर उनकी पिटाई कर दी। इस दौरान मौजूद गार्डों ने दोनों युवकों को दबोच कर पुलिस के हवाले किया है। मामले में लेखपाल की तहरीर पर दोनों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

सरकारी कागज भी फाड़ने का आरोप

सरीला कस्बा क्षेत्र में तैनात लेखपाल पंकज कुमार ने बताया वह तहसील में सरकारी कार्य कर रहे थे। इस दौरान कस्बा निवासी पवन अनुरागी ने फोन करके उसे अपने घर आने को कहा। इस पर उन्होंने घर आने से मना कर दिया और आने की बात कही। इसी बात से नाराज होकर पवन अनुरागी अपने साथी नरेंद्र विश्वकर्मा के साथ तहसील पहुंच गए और जातिसूचक शब्दों के साथ गाली गलौज करने लगे। इसका विरोध करने पर दोनों ने उन्हें पीटा। उन्होंने बताया कि दोनों आरोपियों ने मेज पर रखे सरकारी अभिलेखों को भी फाड़ दिया। हंगामे की आवाज सुनकर साथी कर्मचारियों ने किसी तरह उन्हें बचाया।

तहसील के गार्डों ने दबोचकर पुलिस को सौंपा

इस दौरान तहसील परिसर के गार्ड भी वहां पहुंच गए। जिन्होंने दोनों को रोकने का काफी प्रयास किया। लेकिन, वे नहीं माने। इसेक बाद उन्होंने दोनों आरोपियों को दबोच लिया और घटना की सूचना पुलिस को दी। घटान की सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों आरोपियों को मौके से गिरफ्तार कर लिया।

सरकारी कार्य में बाधा डालने व एससी-एसटी एक्ट का मुकदमा दर्ज
तहसीलदार श्यामनारायण शुक्ला ने बताया कि लेखपाल के साथ तहसील परिसर में ही मारपीट हुई है। मौके से दोनों युवकों को गार्ड ने दबोचकर पुलिस के हवाले कर दिया। वहीं थाना प्रभारी रामआसरे सरोज ने बताया कि लेखपाल की तहरीर पर आरोपियों के विरुद्ध सरकारी कार्य में बाधा डालने व एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है।

डूडा जेई से के साथ भी दिखा चुके हैं ऐसा ही दुस्साहस

लेखपाल का आरोप है कि दोनों ने जान से मारने की धमकी भी दी। उन्होंने बताया कि इससे पहले दोनों आरोपियों ने डूडा के जेई सुनील कुमार को भी फोन करके घर बुलाया था और उनके साथ गाली गलौज करते हुए जान से मारने की धमकी दी है। दोनों अपराधी किस्म के हैं। पूर्व में भी तहसील परिसर में घुसकर एक कर्मचारी के साथ मारपीट की घटना को अंजाम दे चुके हैं।

खबरें और भी हैं...