'मिनी हरिद्वार की तर्ज पर ब्रजघाट का हो रहा विकास':कार्तिक मेला में पहुंचे डिप्टी CM बोले; श्रद्धालुओं की सुरक्षा का ध्यान रखने के दिए निर्देश

गढ़ मुक्तेश्वर (हापुड़)एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गढ़ मुक्तेश्वर का कार्तिक मेला चल रहा है। रविवार शाम डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक यहां मेले में पहुंचे। उन्होंने मेले की तैयारियों का जायजा लिया और अधिकारियों के साथ बैठक कर दिशा-निर्देश दिए। ब्रजेश पाठक ने कहा कि सीएम योगी को गढ़ से लगाव है। यही कारण है कि यहां के विकास पर करोड़ों खर्च हो रहे हैं। मिनी हरिद्वार की तर्ज पर ब्रजघाट का विकास हो रहा है। यह मेला ऐतिहासिक है, इसकी आस्था हमेशा बनी रहेगी।

डिप्टी सीएम ने कहा कि गढ़ मुक्तेश्वर गढ़ों की मुक्ति का धाम है। इस तीर्थ नगरी का इतिहास महाभारत काल से जुड़ा है। यहां का विकास कराना सीएम योगी की प्राथमिकता में है। मेले को सरकार ने राजकीय दर्जा दिया हुआ है। सरकार से मेले में अनुदान भी दिया जाता है, इसलिए अधिकारी मेले की व्यवस्था बेहतर बनाएं। यहां पर श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए 24 घंटे स्वास्थ्य सेवा चालू रखें। मुख्य अस्पताल में अलग-अलग ग्रुप के ब्लड भी मौजूद रहें। ताकि, किसी भी अप्रिय घटना पर यह काम आ सके।

श्रद्धालुओं की सुरक्षा में नहीं हो लापरवाही
उन्होंने कहा कि मेले में लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं ने डेरा डाला हुआ है। उनकी सुरक्षा में किसी भी प्रकार की लापरवाही न हो। मुख्य स्नान के दिन ज्यादा संख्या में श्रद्धालुओं का आगमन होगा। इसलिए उस दिन ड्यूटी सही प्रकार से हो। उन्होंने कहा कि मेला आस्था का है, यहां किसी भी प्रकार से मादक पदार्थ का प्रयोग न हो। मेले में सरकार की ओर से चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं का प्रचार -प्रसार भी किया जाए।

इसके बाद पुलिस-प्रशासन के काफिले के साथ वीआइपी रोड से डिप्टी सीएम मेला स्थित पुलिस लाइन में पहुंचे। यहां उन्हें गार्ड आफ ऑनर दिया गया। इसके बाद वह जिलाधिकारी मेधा रूपम, एसपी दीपक भूकर, जिला पंचायत अध्यक्षा रेखा नागर, विधायक हरेंद्र तेवतिया, जिलाध्यक्ष उमेश राणा के साथ मेले के सदर गेट पर पहुंचे। यहां पर उन्होंने फीता काटकर नारियल फोड़ा। अधिकारियों ने गंगा किनारे के आरती के कार्यक्रम को रद्द किया। फिर उप मुख्यमंत्री को सीधे समीक्षा बैठक में ले गए। यहां पर जिलाधिकारी मेधा रूपम ने संक्षेप में उनको मेले के इतिहास और व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी दी।

खबरें और भी हैं...