गढ़ मुक्तेश्वर के ब्रजघाट में अवैध रेत खनन जारी:पड़ोसी जिला अमरोहा के लोग गंगा के टापू से कर रहे खनन, प्रशासन नहीं ले रहा सुध

गढ़ मुक्तेश्वर (हापुड़)19 दिन पहले

तीर्थनगरी के ब्रजघाट में गंगा से अवैध रेत खनन का काला कारोबार बदस्तूर जारी है। खनन माफिया रात दिन गंगा नदी का सीना चीर चांदी काट रहे हैं, वहीं जिम्मेदार अधिकारी नींद में हैं। खनन करने वाले लोगों का मजबूत नेटवर्क ही कहेंगे कि प्रशासन की कार्रवाई से पहले ही इन्हें भनक लग जाती है।

ब्रजघाट स्थित गंगा के बीच टापू में खनन का खेल चल रहा
गंगा के बीच टापू पर पड़ोसी जिले के लोग भैंसा बुग्गी से रेत का खनन कर रहे हैं। पड़ोसी जिले अमरोहा के गजरौला क्षेत्र के गांवों के लोग गंगा के टापू पर आसानी से दिन में ही रेत का खनन कर रहे हैं। ऐसा नहीं कि प्रशासन को इस काले कारोबार की भनक नहीं है, लेकिन प्रशासन इस बात को गंभीरता से नहीं लेता है।

गंगा के पास से दिन रात अवैध रूप से खनन हो रहा
नतीजन खनन करने वाले लोगों के हौसले बुलंद हैं। वे रात दिन अवैध रूप से खनन कर रहें हैं। बड़े अधिकारियों के निर्देश पर कई दफा पुलिस-प्रशासन ने छापेमारी की, लेकिन खनन करने वाले लोगों का नेटवर्क इतना सक्रिय है कि उन्हें कार्रवाई की पहले ही खबर लग जाती है। जिससे मौके पर अधिकारियों को कुछ हाथ नहीं आता।

गढ़ मुक्तेश्वर एसडीएम प्रह्लद सिंह ने बताया कि गंगा से रेत खनन करने पर कानूनी कार्रवाई की जाती है। गंगा में रेत खनन होने की जानकारी नहीं है, यदि मामला पड़ोसी जिले से जुड़ा है तो वहां के अधिकारियों से वार्ता कर कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

खबरें और भी हैं...