'योगी' गांजा पीने उत्तराखंड जाएं:हापुड़ के सपा विधायक के बिगड़े बोल, पीएम और अमित शाह को दुम दबाकर भागने के लिए कहा, FIR दर्ज

हापुड़एक वर्ष पहले

हापुड़ में धौलाना विधायक असलम चौधरी ने विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा कि योगी बाबा को अगर गांजा पीने का इतना शौक है, तो उत्तराखंड जाएं। यहां क्या कर रहे हैं वो। विधायक असलम हापुड़ में एक जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे, जहां उन्होंने ये विवादित बयान दिया। मामले में बीजेपी नेताओं ने नाराजगी जाहिर की है। पुलिस ने विधायक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

हम मैदान पर आ चुके हैं

धौलाना विधायक हाजी असलम चौधरी ने ये भी कहा कि मोदी, योगी और अमित शाह यहां से दुम दबाकर भाग जाएं। किसानों और नौजवानों की सुरक्षा के लिए हम लोग मैदान पर आ चुके हैं। इस सरकार में महिलाएं भी सुरक्षित नहीं हैं। हम लोग उनको भी सुरक्षा देने का काम करेंगे। विधायक ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग किया है। पूरी घटना का वीडियो वायरल हो रहा है।

अपने विवादित बयानों के चलते पहले भी विधायक असलम चौधरी चर्चाओं में रह चुके हैं।
अपने विवादित बयानों के चलते पहले भी विधायक असलम चौधरी चर्चाओं में रह चुके हैं।

पहले भी दे चुके हैं विवादित बयान

मामले में जिला उपाध्यक्ष डॉ शिव कुमार ने कोतवाली में मुकदमा पंजीकृत कराने के लिए तहरीर दी। इसके बाद पुलिस ने मामले में रिपोर्ट दर्ज कर ली है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। विधायक असलम चौधरी पहले भी विवादित बयान देने के लिए चर्चाओं में रह चुके हैं।

सपा ने जताई नाराजगी

मामले में सपा के कार्यवाहक जिला अध्यक्ष तेजपाल प्रमुख ने बताया कि पुलिस प्रशासन सत्ता के दबाव में काम कर रहा है। विधायक पर दर्ज मुकदमा इसका उदहारण है। विधायक द्वारा कहे गए शब्द अपराध की श्रेणी में नहीं आते हैं। सत्ता दल के नेता कुछ भी बोले उन पर कोई मुकदमा दर्ज नहीं होता। उन्होंने कहा कि पूरे मामले को लेकर पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल डीएम-एसपी से मुलाकात करेगा। किसी भी प्रकार का उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

विधायक ने कहा, भाजपा किसान और मजदूरों का शोषण कर रही है।
विधायक ने कहा, भाजपा किसान और मजदूरों का शोषण कर रही है।

विधायक बोले-भाजपा बौखला गई है

विधायक असलम चौधरी का कहना है की आरोप निराधार हैं। सीएम और पीएम पर कोई टिप्पड़ी नहीं की गई है। भाजपा हार से बौखला गई है। किसान मजदूर का शोषण कर विपक्ष के नेताओं की आवाज दबाई जा रही है। उन्होंने कहा कि चुनाव में उनकी जीत तय है। पूरे मामले को लेकर आला अधिकारियों से वार्ता की जाएगी।

अखिलेश भी बोल चुके हैं चिलमजीवी

इससे पहले समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने गाजीपुर में प्रदेश की योगी सरकार को चिलमजीवी बोला था। उन्होंने कहा था कि ये चिलमजीवी कभी उत्तर प्रदेश को खुशहाली के रास्ते पर नहीं ले सकते। साथ ही ये भी कहा कि जनता इनको पैदल करने वाली है, मगर ये तो पहले ही पैदल हो गए हैं। अखिलेश यादव ने पूर्वांचल एक्सप्रेसवे की उस घटना का जिक्र किया था, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गाड़ी में बैठे हुए हैं और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गाड़ी के पीछे-पीछे पैदल चल रहे हैं।

खबरें और भी हैं...