अब एक क्लिक पर बनेगा वोटर कार्ड:हापुड़ में 1 नवंबर से 30 नवंबर तक चलेगा मतदाता सूची अपडेट का काम, ऑनलाइन का भी है आप्शन

हापुड़9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डीएम अनुज सिंह। - Dainik Bhaskar
डीएम अनुज सिंह।

विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर तैयारी शुरू हो गई हैं। एक नवंबर से मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्यक्रम हापुड़ में चलेगा। माह की 7, 13, 21 और 27 नवंबर को आपत्ति प्राप्त करने के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। निर्वाचन नामावलियों का अंतिम प्रकाशन पांच जनवरी 2022 को होगा। इस कार्यक्रम में ऑनलाइन और ऑफलाइन माध्यम से मतदाता अपनी वोटर कार्ड बनवा सकेंगे।

01 नंवबर से 30 नवंबर तक होगा पुनरीक्षण कार्यक्रम

डीएम अनुज सिंह ने बताया कि एक नवंबर से 30 नवंबर तक मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्यक्रम चलाया जाएगा। 18 वर्ष की आयु पूरी करने वाले नए मतदाता सूची में नाम शामिल करने के लिए प्रपत्र-छह, विदेश में रह रहे भारतीय नागरिकों के नाम निर्वाचन नामावली में शामिल करने के लिए प्रपत्र-6A, निर्वाचक नामावली में शामिल नाम को निकलवाने के लिए आपत्ति प्रपत्र-7, निर्वाचक नामावली में पहले से शामिल नाम में अशुद्धि को शुद्ध कराने के लिए प्रपत्र-8 भरें। उन्होंने जिले के विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को निर्देश देते हुए कहा कि 18 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाले छात्र-छात्राओं का शत-प्रतिशत वोटर कार्ड बनवाने में सहयोग करें।

मोबाइल पर बना सकेंगे वोटर कार्ड

एक नवंबर से पुनरीक्षण अभियान शुरू हो जाएगा। आवेदन करने के लिए आनलाइन और आफलाइन दोनों ही विकल्प लोगों को मिलेंगे। प्राप्त आवेदन पत्रों पर जांच कर आगे की कार्रवाई की जाएगी। आफलाइन आवेदन फार्म भरकर संबंधित क्षेत्र के बीएलओ को दे सकते हैं। साथ ही मतदान केंद्र पर भी रविवार को पहुंचकर अपनी वोट बनवा सकतें हैं।

ऑनलाइन ऐसे करें आवेदन

  • https://voterportal.eci.gov.in/ पर जाकर आनलाइन आवेदन कर सकते है।
  • मोबाइल में वोटर हेल्पलाइन एप डाउनलोड कर ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं।

पुनरीक्षण कार्यक्रम में ये कार्य भी किए जाएंगे

मतदाता सूची में नए नाम जोड़ने के अलावा पुनरीक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत मतदाताओं के विवरण में संशोधन, मतदाता सूची से नाम हटाने, किसी निर्वाचन क्षेत्र से नाम हटाकर दूसरे क्षेत्र में शामिल कराने के कार्य भी होंगे। इसके लिए भी संबंधित मतदाताओं को फार्म भरकर देना होगा। डीएम अनुज सिंह ने बताया कि इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कर्मचारी समय के साथ ड्यूटी कर अपने कार्यों का निर्वहन करें।

खबरें और भी हैं...