हरदोई में 72 शहीदों की याद में निकला जुलूस:इमाम चौक से उठाया गया ताजिया, चेहल्लुम में शामिल हुए मुस्लिम भाई

हरदोई14 दिन पहले

हरदोई में पैगंबरे इस्लाम हजरत मोहम्मद साहब के नाती हजरत इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम सहित कर्बला के 72 शहीदों की याद में देर रात तक जुलूस निकला। पाली का चेहुल्लूम मशहूर है, लिहाज़ा नगर के मोहल्ला इमाम चौक से चेहल्लुम का ऐतिहासिक जुलूस परम्परागत तरीके से गमगीन माहौल में निकाला गया।

जुलूस नगर की गलियों में भ्रमण करता रहा। इस दौरान पाली नगर में मुस्लिम इलाकों की गलियां या हुसैन की सदाओं से गूंज उठी। पाली नगर में इस वर्ष भी अकीदतमंदो के द्वारा चेहल्लुम के मौके पर मोहल्ला इमामचौक से ताजिया का जुलूस उठाया गया।

अलग-अलग चौक से उठाया गया ताजिया
इमाम चौक में शाकिर अली, इस्मद अली, नियाज़ एवं सिराज आदि का ताजिया उठकर उसके बाद फौजी, नूरहमद,अब्दुल कलाम, अंसार और बाबा का ताजिया उठा। इसके बाद मलिकाना मोहल्ले से मलिक शमशेर आदि का ताजिया उठकर मोहल्ला काजीसराय से मोहल्ला आबिदनगर से होता हुआ चेहल्लुम ताजियों का जुलूस ईदगाह स्थित कर्बला की ओर रुखसत हुआ। कर्बला में ताजियों को सुपुर्दे ख़ाक कर दिया गया।

72 शहीदों का चालीसवां मनाने शामिल हुए
रोते है सब खास-ओ-आम चेहल्लुम हुआ तमाम। चले आओ ए जब्बारों चले आओ, मेरी आवाज पे लब्बैक पुकारे जाओ। दर्द भरे नौहों और या हुसैन की सदाओं के साथ हजारों की तादाद में गमजदा चेहरों ने नम आंखों से कर्बला के शहीदों को पुरसा दिया। रविवार को अजादार, इमाम हुसैन सहित कर्बला के 72 शहीदों का चालीसवां मनाने के लिए कस्बेवासी चेहल्लुम के जुलूस में शामिल हुए।

खबरें और भी हैं...