बेटे की मौत के बाद पिता की मौत:हरदोई में तीन महीने पहले बेटे ने कर ली थी आत्महत्या, गमछे से लटकता मिला पिता का शव

हरदोईएक महीने पहले

हरदोई में एक बुजुर्ग ने घर के बाहर खड़े पेड़ से फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। बुढ़ापे की लाठी बने बड़े बेटे के आत्महत्या करने के बाद बे-सहारा हुए उसके बूढ़े बाप ने उसी सदमे के चलते खुद भी मौत को गले लगा लिया। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को नीचे उतर आया और फिर शव का पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और बाद मामले की छानबीन करनी शुरू कर दी है।

घटना टड़ियावां थाने के जामू झाला गांव की है। जहां के निवासी 65 वर्षीय बाबूराम का शव आज दोपहर गांव के बाहर खड़े एक पेड़ से लटकता मिला। उसका शव गमछे से लटकता देख इलाके में अफरा-तफरी मच गई।

इलाके के लोगों ने इसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पेड़ से नीचे उतरवाया और शव को कब्जे में लेने के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

तीन महीने पहले बेटे ने कर ली थी आत्महत्या

गांव के लोगों ने बताया कि करीब तीन महीने पहले बाबूराम के बड़े बेटे रजनीश ने आत्महत्या कर ली थी। रजनीश अपने बाप के बुढ़ापे का सहारा था। उसके न रहने से बाबूराम को ऐसा सदमा पहुंचा कि उसने तमाम हसरतों को किनारे कर खुद भी आत्महत्या कर ली। इसका पता होते ही वहां पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर उसका पोस्टमार्टम कराया है। मामले की गहराई से छानबीन की जा रही है।

खबरें और भी हैं...