हरदोई में लोकतंत्र रक्षक सेनानियों को किया गया सम्मानित:सेनानियों का बलिदान नहीं भूलेगा देश, 25 जून 1975 देश के लिए काला अध्याय था

हरदोई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरदोई के लोकतंत्र सेनानियों को सम्मानित करने के लिए आज जिला पंचायत सभागार में स्वागत समारोह का आयोजन किया गया। उस संकट की घड़ी में भी लोकतंत्र की रक्षा के लिए जेल जाने वालों का देश सदैव ऋणी रहेगा। 25 जून 1975 देश के लिए एक काला अध्याय है। मंत्री नितिन अग्रवाल ने कहा कांग्रेस के कारनामों का ही परिणाम है कि आज देश कांग्रेस मुक्त होने की ओर अग्रसर है।

इस अवसर पर समारोह के मुख्य अतिथि उत्तर प्रदेश सरकार के आबकारी एवं मद्य निषेध मंत्री नितिन अग्रवाल ने लोकतंत्र सेनानियों को अंगवस्त्र प्रदान कर सम्मानित किया। अध्यक्ष जिला पंचायत हरदोई प्रेमावती ने लोकतंत्र सेनानियों सहित उपस्थित जनप्रतिनिधियों, पार्टी पदाधिकारियों एवं समस्त अतिथियों का अभिनन्दन किया।

लोकतंत्र सेनानियों के योगदान को देश कभी नहीं भूलेगा।
लोकतंत्र सेनानियों के योगदान को देश कभी नहीं भूलेगा।

भयावह दौर में लोकतंत्र की रक्षा
कार्यक्रम मे लोकतंत्र सेनानियों से आपातकाल के कटु संस्मरणों पर चर्चा करते हुए अध्यक्ष प्रेमावती ने कहा कि, समस्त लोकतंत्र सेनानियों के संघर्ष से ही आज हमारे देश का लोकतंत्र जिंदा है। लोकतंत्र सेनानियों का त्याग और बलिदान हमारा देश कभी नहीं भूलेगा। आपातकाल के दौरान तत्कालीन सरकार के अलोकतांत्रिक रवैये का विरोध करते हुए जेल जाने वाले लोकतंत्र सेनानियों ने अपने अनुभव साझा किये।

स्वागत समारोह में सभी का सम्मान किया गया।
स्वागत समारोह में सभी का सम्मान किया गया।

समस्त लोकतंत्र सेनानियों को नमन
कार्यक्रम का समापन भाजपा जिलाध्यक्ष सौरभ मिश्रा ने समस्त लोकतंत्र सेनानियों को नमन कर किया। स्वागत समारोह में प्रमुख रूप से कार्यक्रम संयोजक सुभाष पांडे, सहसंयोजक विनोद राठौर, क्षेत्रीय महामंत्री पीके वर्मा, पूर्व जिलाध्यक्ष विद्याराम वर्मा व रामकिशोर गुप्ता सहित वरिष्ठ पार्टी पदाधिकारी व लोकतंत्र सेनानी उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...