हरदोई पुलिस के सामने वारंटी सपना चौधरी ने लगाए ठुमके:लखनऊ से जारी गिरफ्तारी का वारंट, BJP विधायक की मौजूदगी में हुआ कार्यक्रम

हरदोईएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस के सामने और BJP विधायक की मौजूदगी में वारंटी सपना चौधरी ने जमकर ठुमके लगाए। - Dainik Bhaskar
पुलिस के सामने और BJP विधायक की मौजूदगी में वारंटी सपना चौधरी ने जमकर ठुमके लगाए।

हरदोई पुलिस के सामने और BJP विधायक की मौजूदगी में वारंटी सपना चौधरी ने जमकर ठुमके लगाए। पुलिस ने कड़ी सुरक्षा के बीच उन्हे स्टेज तक ले गई। कार्यक्रम के दौरान पुलिस मुस्तैदी से तैनात रही। वहीं, जब भीड़ बेकाबू हुई तो पब्लिक को लाठी पटककर खदेड़ा। इसके बाद कड़ी सुरक्षा के बीच उसे लेकर रवाना हो गई।

दरअसल, लखनऊ की एक अदालत ने मशहूर डांसर सपना चौधरी के खिलाफ एक कार्यक्रम को मनमाने तरीके से रद्द करने और टिकट खरीदने वालों का पैसा वापस नहीं करने के मामले में गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। इसके बाद भी वो गुरुवार रात मल्लावां क्षेत्र के बेरिया घाट में कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंची। इस दौरान BJP विधायक आशीष सिंह भी मौजूद रहे। करीब 11 बजे शुरू हुआ कार्यक्रम हंगामे की वजह से 45 मिनट में बंद करना पड़ा। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।

सपना को गिरफ्तार करने की बजाए कार्यक्रम को सफल बनाने में पुलिसकर्मी लगे रहे।
सपना को गिरफ्तार करने की बजाए कार्यक्रम को सफल बनाने में पुलिसकर्मी लगे रहे।

पुलिस की सुरक्षा में स्टेज तक पहुंची सपना

हरदोई पहुंचने पर उनका वीआईपी की तरह स्वागत किया गया। जिले की सीमा पर पहुंचते ही सपना के काफिले को पुलिस ने अपनी सुरक्षा में ले लिया। भारी भीड़ के चलते भारी पुलिस बल के साथ उनके काफिले को स्टेज तक ले जाया गया। कार्यक्रम के दौरान पुलिस स्टेज पर भी मौजूद रही।

कार्यक्रम के दौरान पुलिस स्टेज पर मौजूद रही।
कार्यक्रम के दौरान पुलिस स्टेज पर मौजूद रही।

कोर्ट ने जारी किया है गिरफ्तारी का वारंट

डांसर सपना चौधरी पर अपने फैन्‍स का दिल तोड़ने का आरोप लगा है। अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट शांतनु त्यागी की अदालत ने वारंट जारी करते हुए मामले की अगली सुनवाई की तारीख 22 नवंबर नियत की है। दारोगा फिरोज खान ने 14 अक्टूबर 2018 को आशियाना थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। इस मुकदमे में सपना के अलावा कार्यक्रम के आयोजक जुनैद अहमद, नवीन शर्मा, इवाद अली, अमित पांडे और रत्नाकर उपाध्याय को भी आरोपी बनाया गया था।

हंगामा होने पर पुलिस ने लाठी खदेड़कर भीड़ काे काबू किया।
हंगामा होने पर पुलिस ने लाठी खदेड़कर भीड़ काे काबू किया।