हाथरस में डीएम ने जिला अस्पताल का किया औचक निरीक्षण:परिसर में कई जगह मिली गंदगी, वार्डों में नहीं मौजूद थे डॉक्टर; सीएमएस को लापरवाहों के खिलाफ कार्रवाई के दिए निर्देश

हाथरस2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हाथरस में डीएम ने जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण किया जिसमें उन्हें कई डॉक्टर व कर्मचारी गैरहाजिर मिले। - Dainik Bhaskar
हाथरस में डीएम ने जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण किया जिसमें उन्हें कई डॉक्टर व कर्मचारी गैरहाजिर मिले।

हाथरस में डीएम ने आम मरीज बनकर जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण किया है। वह बाइक से अस्पताल पहुंचे। वहां लाइन में लगकर पर्चा बनवाया। इसके बाद वह वार्डों का निरीक्षण करने लगे। जहां मरीजों की तो कतार लगी थी लेकिन डॉक्टर मौजूद नहीं थे। उन्होंने ड्यूटी पर गैरहाजिर डॉक्टरों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। साथ ही सीएमएस से भी स्पष्टीकरण मांगा है।

स्वास्थ्य सेवाओं की हकीकत जानने के लिए किया निरीक्षण
जिले में इन दिनों डेंगू ने पैर पसार रखे हैं। इधर संचारी रोग नियंत्रण अभियान भी शुरू हो गया है। जिला अस्पताल में स्वास्थ्य सेवाओं की हकीकत जानने के लिए डीएम रमेश रंजन अपने स्टेनो के साथ बाइक से अचानक सोमवार की सुबह 7 बजे जिला अस्पताल मरीज बनकर पहुंच गए। वहां उन्होंने किसी दूसरे नाम से अपना पर्चा बनवाया। जबकि उनके स्टेनो ने अपने नाम से पर्चा बनवाया।

गैरहाजिर मिले कई वार्डों में डॉक्टर
डीएम ने देखा कि वार्डों के बाहर मरीजों की लाइन लगी हुई है। अलग-अलग बीमारी के लिए ओपीडी के बाहर मरीज खड़े हैं। उनके इलाज के लिए सुबह 8 बजे भी कोई डॉक्टर मौजूद नहीं है। इसके बाद वह दोनों लोग बच्चों के वार्ड में गए। वहां भी डॉक्टर नहीं थे। डीएम ने इमरजेंसी का भी निरीक्षण किया। करीब 45 मिनट तक वह जिला अस्पताल परिसर में मौजूद रहे। उन्होंने ड्यूटी पर अनुपस्थित डॉक्टरों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए है। उन्हें शौचालय में भी गंदगी मिली। जिसके बाद उन्होंने सीएमएस से स्पष्टीकरण मांगा है।

खबरें और भी हैं...