हाथरस में दुकान गिरने से मलबे में दबा अधेड़:40 वर्ष से बंद पड़ी है नगर पालिका की दुकान, अब तक एक दर्जन से अधिक लोग हो चुके हैं जख्मी

हाथरस2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हाथरस में दुकान गिरने से मलबे में दबा अधेड़। - Dainik Bhaskar
हाथरस में दुकान गिरने से मलबे में दबा अधेड़।

हाथरस जिले में नगर पालिका की वर्षों से जीर्ण-शीर्ण पड़ी दुकान के मलबे से एक विक्षिप्त अधेड़ चोटिल हो गया। तड़के हुए इस हादसे में विक्षिप्त की चीख-पुकार पर आसपास के लोगों ने दौड़कर उसे बचाया। प्राथमिक उपचार मिलने के बाद विक्षिप्त कहीं चला गया। इस संबंध में क्षेत्रीय सभासद ने अधिकारियों से मिलकर समस्या के समाधान की बात कही है।

40 वर्ष से बंद पड़ी है दुकान

बता दें कि नगर के बीचों-बीच रुई की मंडी स्थित बाजार में नगर पालिका की एक दुकान विगत करीब 40 वर्ष से बंद पड़ी है। पिछले तकरीबन एक दशक से यह दुकान पूरी तरह से जीर्ण-शीर्ण हो चुकी है। इसके मलबे से अब तक दर्जनभर से अधिक लोग जख्मी हो चुके हैं। पिछले करीब पांच वर्ष पूर्व भी इसी जीर्ण-शीर्ण दुकान से उस वक्त हादसा हुआ था, जब पास में ही एक मकान बन रहा था। दुकान से गिरे मलबे की चपेट में आकर करीब एक दर्जन लोग जख्मी हुए थे। लोगों की मानें तो शुक्रवार को हुआ यह छठां हादसा है.

जल्द ही होगा समस्या का समाधान

आज तड़के एक विक्षिप्त अधेड़ यहां पेशाब कर रहा था, तभी नगर पालिका की जीर्ण-शीर्ण दुकान से मलबा उसके ऊपर गिर पड़ा। जब उसकी चीखें निकली तो आसपास के लोगों ने दौड़कर उसे बचाया और प्राथमिक उपचार दिलाया। स्थानीय वार्ड 26 के सभासद पवन गुप्ता ने बताया कि यह क्षेत्र की पुरानी समस्या है। दुकान काफी जीर्ण-शीर्ण है। इसके संबंध में पालिका अध्यक्ष को भी पहले कई बार अवगत कराया गया है। जल्द ही इसका समाधान कराया जाएगा।

खबरें और भी हैं...