• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Jalaun
  • After The Order Of The Chief Minister, The DM SP Came On The Road, Vacate The Warning Given To The Encroachers, Otherwise The Bulldozer Will Run

CM के आदेश के बाद सड़क पर उतरे DM-SP:जालौन में अतिक्रमणकारियों को दी चेतावनी, कहा- खाली करें नहीं तो चलेगा बुलडोजर

जालौन10 दिन पहले

जालौन। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुंदेलखंड के दो दिवसीय दौरे पर हैं। जहां उन्होंने झांसी मंडल के अंतर्गत आने वाले जालौन के अधिकारियों के साथ वर्चुअल समीक्षा बैठक की। इस समीक्षा बैठक में अतिक्रमणकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश सीएम ने निर्देश दिए थे, जिसके बाद देर शाम को जालौन की डीएम और पुलिस अधीक्षक सड़क पर उतरे जहां उन्होंने उरई के शहीद भगत सिंह चौराहा से अंबेडकर चौराहे तक अतिक्रमण करने वालों को चेतावनी देते हुए जल्द से जल्द अतिक्रमण हटा लेने के निर्देश दिए।

सख्त कार्रवाई करने के निर्देश
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकारी जगह पर अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने के निर्देश लगातार जिले के अधिकारियों को दे रहे हैं। इसी क्रम में आज झांसी मंडल के जालौन जिले की समीक्षा बैठक के दौरान उन्होंने जालौन में अतिक्रमणकारियों के खिलाफ बहुत कम हुई। कार्रवाई का संज्ञान लेते हुए डीएम और एसपी को त्वरित इसमें कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

कर्मचारी को सख्त चेतावनी
बैठक समाप्त होने के बाद डीएम और एसपी तत्काल उरई के शहीद भगत सिंह चौराहे पर पहुंचे, जहां उन्होंने अतिक्रमण किए दुकानदारों को नोटिस दिया, साथ ही उनको जल्द से जल्द अतिक्रमण वाले स्थान को खाली करने के निर्देश दिए, साथ ही उन्होंने एक रिटायर्ड नगर पालिका के कर्मचारी को सख्त चेतावनी देते हुए कहा कि यदि उनके द्वारा किए गए अतिक्रमण को हटाया नहीं गया तो उनकी पेंशन रोक दी जाएगी साथ ही उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

आए दिन जाम लगता है
डीएम-एसपी ने शहीद भगत सिंह चौराहे से अंबेडकर चौराहे तक सभी दुकानदारों को अतिक्रमण करने वाली जगह को खाली करने के निर्देश दिए, साथ ही चेतावनी दी यदि उनके द्वारा स्थान खाली नहीं किया गया तो उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस अभियान से अतिक्रमणकारियों में हड़कंप मचा रहा, बता दें कि उरई शहर में अतिक्रमण के कारण आए दिन जाम लगता है और लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। जिसकी शिकायत मुख्यमंत्री पोर्टल पर सीम योगी आदित्यनाथ से भी की गई थी और इसी का संज्ञान लेने के बाद मुख्यमंत्री ने इस पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

खबरें और भी हैं...