जालौन में तहसीलदार ने व्यापारी को पीटा:व्यापार कर स्थगन देखकर भड़के, बिना वारंट कर रहे थे गिरफ्तार; नाराज कारोबारियों ने किया विरोध प्रदर्शन

जालौन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जालौन में तहसीलदार ने व्यापारी को लाठी से पीटा। - Dainik Bhaskar
जालौन में तहसीलदार ने व्यापारी को लाठी से पीटा।

जालौन में तहसीलदार की गुंडागर्दी का मामला सामने आया है। एक व्यापारी के घर तहसीलदार व्यापार कर की वसूली करने पहुंचे। व्यापारी के पास व्यापार कर स्थगन का आदेश देख तहसीलदार भड़क गए और उन्होंने व्यापारी के साथ अभद्रता करना शुरू कर दिया। वह उसे बिना वारंट के गिरफ्तार करने लगे। जिसका विरोध व्यापारी ने किया तो तहसीलदार ने उसे लाठी से पीटा। जिसकी जानकारी अन्य व्यापारियों को हुई तो वह मौके पर पहुंच गए। उन लोगों ने हंगामा करते हुए मामले की सूचना पुलिस को दी। जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची। वह सभी लोगों को कोतवाली ले गई। वहीं पीड़ित व्यापारी ने कोतवाली में तहसीलदार के खिलाफ शिकायत की है।

व्यापारी पर था सेल्स टैक्स का बकाया
पूरा मामला कोंच कोतवाली क्षेत्र के उरई रोड का है। यहां मथुरा प्रसाद महाविद्यालय के पास रहने वाले रामखिलावन के ऊपर सेल टैक्स विभाग का बकाया पड़ा हुआ था। जिसकी आरसी सेल टैक्स विभाग द्वारा जारी की गई थी। इसकी वसूली के लिये कोंच तहसीलदार नरेंद्र कुमार को आदेश हुआ था। इस आरसी का स्थगन वाणिज्य कर अधिकारी ने 24 सितंबर को स्थगित कर दिया गया था। फिर भी तहसीलदार रामखिलावन के घर जाकर वसूली का दबाव बनाने लग गए।

व्यापारी की लाठी से तहसीलदार ने की पिटाई
मंगलवार की सुबह 10:30 बजे तहसीलदार नरेंद्र कुमार एक बार फिर वसूली करने के लिए पहुंचे। जिस पर रामखिलावन ने उन्हें स्थगन आरसी दिखाई। तहसीलदार ने इस आदेश को नजरअंदाज कर दिया और रामखिलावन को गिरफ्तार करने लगे। जिसका विरोध व्यापारी रामखिलावन ने किया गया तो तहसीलदार ने उसे लाठी से पीटना शुरू कर दिया। यह घटना देख आसपास के लोगों की भीड़ जमा हो गई। लोगों ने तहसीलदार को रोकने का प्रयास किया।

हंगामा बढ़ता देख तहसीलदार ने बुलाई पुलिस
इस बारे में जब अन्य व्यापारियों को जानकारी हुई तो वह भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने तहसीलदार का विरोध किया। हंगामा बढ़ता देख तहसीलदार ने कोंच कोतवाली पुलिस को बुला लिया। पुलिस व्यापारी रामखिलावन के साथ अन्य लोगों को थाने लेकर पहुंची। जहां पर उन्होंने दोनों पक्षों की बात सुनी। बाद में व्यापारी रामखिलावन ने कोंच कोतवाली में तहरीर देते हुए बताया कि स्थगन आदेश के बावजूद भी तहसीलदार ने प्रार्थी व उसके भाई के साथ मारपीट की है। जिससे भाई के हाथ में चोट आई है। इसके अलावा उसे जबरन तहसील की हवालात में बंद कर दिया गया। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

खबरें और भी हैं...